Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day

अल्मोड़ा

उत्तराखण्ड

19 कुमाऊं रेजीमेंट के जवान की ड्यूटी के दौरान पठानकोट ( पंजाब ) में मौत ,खबर से घर में पसरा मातम



उत्तराखण्ड को ना जाने किसकी नजर लग गयी है , बीते 4 दिन पहले चमोली निवासी गढ़वाल राइफल के जवान 22 वर्षीय रोहित मैंदोली की राजस्थान में अचानक तबियत बिगड़ने से दो फरवरी को मौत हो गई थी। ऐसी ही एक दुखद खबर कुमाऊं रेजिमेंट के जवान की पठानकोट में मृत्यु की आयी है। खबर लगते ही घर में पत्नी बेसुध पड़ी है, उसका रो-रोकर बुरा हाल है। एलकेजी में पढ़ने वाला चार साल का मासूम बेटा पूरी तरह अनजान होकर आंगन में खेल रहा है। यह हाल कुमाऊं रेजिमेंट के सैनिक सुशील तिवारी के घर का है, जिनकी ड्यूटी के दौरान मौत हो गई है। मौत का कारण अभी तक पता नहीं है, आशंका है कि करंट लगने से सैनिक सुशील की मृत्यु हुई होगी। 30 वर्षीय सैनिक मृत्यु समय पंजाब में पठानकोट ‌के पास अपनी ड्यूटी में तैनात थे। अल्मोड़ा की तहसीलदार ने सैनिक की मृत्यु की पुष्टि की है।




जानकारी के अनुसार अल्मोड़ा जिले के जागेश्वर के तोली गांव निवासी सुशील तिवारी (30) पुत्र नंदकिशोर तिवारी थलसेना की 19 कुमाऊं रेजीमेंट में नायक के पद पर थे। वर्तमान में उनकी तैनाती पंजाब में पठानकोट के पास थी। वे चार साल पहले ही नैनीताल के हल्दूचौड़ में बसे थे। यहां उन्होंने दुर्गापालपुर परमा गांव में मकान बनाया था। जिसमें उनकी पत्नी मीना तिवारी अपने चार साल के मासूम बेटे लक्ष्य के साथ रहती हैं। सैनिक का मासूम बेटा लक्ष्य अभी वीर सैनिक स्कूल में एलकेजी में पढ़ रहा है। ग्राम प्रधान संजय राणा के अनुसार सैनिक सुशील के पार्थिव शरीर को पठानकोट से यहां दुर्गापालपुर परमा गांव में लाया जा रहा है। उसके बाद यहा से सैनिक के पार्थिव शरीर को उनके पैतृक गांव ले जाया जाएगा। जहां जागेश्वर धाम के घाट पर सैनिक का अंतिम संस्कार सैन्य सम्मान के साथ किया जाएगा। सैनिक की मौत का असली कारण पता करने के लिए  एसडीएम एपी बाजपेई ने सैनिक की मौत के बारे  जिला सैनिक कल्याण अधिकारी और सेना से जानकारी मांगी गई है, जिसके बाद ही खुलासा होगा।




लेख शेयर करे

More in अल्मोड़ा

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top