Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day

उत्तराखण्ड

देहरादून

सीबीआई की देहरादून शाखा में कार्यरत तेजप्रकाश देवरानी का चयन हुआ, संयुक्त राष्ट्र पुलिस मिशन के लिए



उत्तराखण्ड ने भारत को हर क्षेत्र में उच्च अधिकारी दिए है, आप चाहे आर्मी जनरल बिपिन रावत की बात कर लीजिए या फिर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की , उत्तराखण्ड के जाबांज अफसर हर क्षेत्र में छाए हुए है। यह उत्तराखण्ड  के लिए बड़े ही गर्व की बात है। आज हम आपको एक ऐसी ही शख्सियत के बारे में बताएंगे, जिनका चयन संयुक्त राष्ट्र पुलिस मिशन के लिए हुआ है। जी हां हम बात कर रहे हैं, सीबीआई इंस्पेक्टर तेजप्रकाश देवरानी की। वर्तमान में सीबीआई की देहरादून शाखा में कार्यरत तेजप्रकाश देवरानी का चयन संयुक्त राष्ट्र पुलिस मिशन के लिए हुआ है। इंस्पेक्टर देवरानी का यूएन मिशन में एक साल के लिए चयन हुआ है। एक साल यूएन मिशन में कार्य करने के बाद इंस्पेक्टर देवरानी पुनः सीबीआई में अपनी सेवाएं देंगे। देशभर के 164 अफसरों की चयन परीक्षा में गुरूरानी को 11वां स्थान प्राप्त हुआ है। 
बताते चलें कि अपनी कार्य कुशलता के कारण देवरानी को बहुत से सम्मानों से नवाजा गया है। जिनमें सीबीआई में बेस्ट विवेचक, सराहनीय सेवा आदि महत्वपूर्ण सम्मान प्रमुख हैं।




  बता दें कि सीबीआई इंस्पेक्टर तेजप्रकाश देवरानी मूल रूप से पौड़ी गढ़वाल के देवराना गांव के रहने वाले हैं। वें वर्तमान में सीबीआई की देहरादून शाखा में कार्यरत हैं, तथा उनका निवास स्थान साकेत कालोनी देहरादून में हैं।  देशभर के पुलिस फोर्स, आइटीबीपी, बीएसएफ, एसएसबी, सीबीआइ, एनआइए आदि के पुलिस अधिकारियों की संयुक्त राष्ट्र पुलिस सेवा में जाने के लिए चयन परीक्षा सितम्बर 2018 में आइटीबीपी कैंप दिल्ली में आयोजित की गई थी। इस परीक्षा में सीबीआई से एकमात्र अफसर, इंस्पेक्टर देवरानी ने ही प्रतिभाग किया था। परीक्षा परिणाम आने पर देवरानी को 164 अफसरों में से 11वां स्थान प्राप्त हुआ था। जिसके बाद गृह मंत्रालय ने सभी चयनित अभ्यर्थियों सहित सीबीआई इंस्पेक्टर तेजप्रकाश देवरानी को यूएन मिशन पर जाने के आदेश जारी कर दिए हैं। बतातें चले कि सभी चयनित अफसरों को 10 फरवरी तक अफ्रीका के संयुक्त राष्ट्र बेस कैंप युगांडा में पहुंचने के आदेश गृह मंत्रालय द्वारा जारी किए गए हैं। जहां पर इन सभी चयनित अफसरों को कुछ दिन तक ट्रेनिंग दी जाएगी। जिसके बाद इन सभी अफसरों को एक साल तक सूडान में पुलिस सेवा में अपनी सेवाएं देनी होगी।




 

लेख शेयर करे

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top