Connect with us
Uttarakhand Government Coronavirus donate Information
alt="MLA Harish dhami apeel to chief minister of uttarakhand"

उत्तराखण्ड

पिथौरागढ़

विधायक धामी ने मुख्यमंत्री से की क्षेत्रवासियों को बचाने की अपील, बोले आप कहोगे तो संन्यास भी ले लूंगा..

MLA Harish dhami: धारचूला से कांग्रेस के विधायक हरीश धामी ने मुख्यमंत्री से की हाथ जोड़कर अपील, बोले आप कहोगे तो राजनीति से संन्यास भी ले लूंगा लेकिन मेरे क्षेत्र की जनता को किसी तरह बचा लो..

राज्य के सीमांत जिले पिथौरागढ़ में आपदा का कहर जारी है। पिथौरागढ़ के धारचूला एवं मुनस्यारी में आपदा ने इन दिनों ऐसा कहर बरपाया है कि चारों ओर विध्वंस ही नजर आ रहा है। गांव के गांव शमशान में तब्दील हो ग‌ए है। आपदा प्रभावित ग्रामीणों को राहत का इंतजार है। भले ही प्रशासन अपनी ओर से आपदा प्रभावितों को राहत देने की हरसंभव कोशिश कर रहा हो, खुद जिले के मुखिया जिलाधिकारी तथा पुलिस अधीक्षका प्रीति प्रियदर्शिनी मौके पर मौजूद हैं लेकिन फिर भी प्रशासन की यह कोशिशें आपदा को देखकर नाकाफी लगती है। हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि इस बार प्राकृतिक आपदा का कहर किसी एक विशेष गांव या इलाके में नहीं बरपा है बल्कि धारचूला मुनस्यारी के क‌ई इलाके इस आपदा की चपेट में हैं। अब तक क‌ई जाने जा चुकी है तो सैकड़ों लोग बेघर भी हुए हैं। क्षेत्र के क‌ई गांवों का नक्शे से नामोनिशान ही गायब हो गया है। आपदा की इस दुखद घड़ी में धारचूला से कांग्रेस के विधायक हरीश धामी (MLA Harish dhami) ने प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से क्षेत्रवासियों को बचाने की बेहद भावुक अपील की है।

Posted by पहाड़ लाइव on Thursday, 30 July 2020

यह भी पढ़ें- पिथौरागढ़ के बंगापानी की आपदा में अभी तक 9 शव बरामद “पूरा गांव ही खत्म हो गया”…

नाले को पार करते समय विधायक धामी हुए थे हादसे का शिकार, कार्यकताओं ने बड़ी मुश्किल से बचाया:- गुरुवार को अपने सोशल मीडिया अकाउंट से जारी विडियो में विधायक हरीश धामी ने मुख्यमंत्री से हाथ जोड़कर निवेदन किया है कि आप मेरी क्षेत्र की जनता को रेस्क्यू कर सुरक्षित बचा लीजिए इसके बदले यदि आप मुझसे राजनीति से संन्यास लेने के लिए कहें तो मैं उसके लिए भी तैयार हूं। मैं 2022 का चुनाव भी नहीं लडूंगा। यदि आपको इसी वक्त मेरा इस्तीफा चाहिए तो मैं उसके लिए भी तैयार हूं लेकिन आप कुछ भी करके आपदा ग्रस्त क्षेत्र की जनता को बचा लीजिए, उनका सुरक्षित पुनर्वास करा दीजिए। विधायक धामी ने यह अपील ऐसे समय में की है जबकि धारचूला मुनस्यारी के क‌ई क्षेत्र आपदा से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। बता दें कि बीते 19 जुलाई को जब बंगापानी तहसील के टांगा मुनियाल और गैला गांव में बादल फटा था तभी से धामी प्रशासन के साथ खुद भी राहत एवं बचाव कार्य में लगे हुए थे। बीते गुरुवार को आपदा ग्रस्त मोरी गांव का मुआयना कर लौट रहे विधायक धामी खुद भी एक हादसे का शिकार होने से बाल-बाल बचे। हादसा उस समय हुआ जब वह उफनते नाले को रस्से के सहारे पार कर रहे थे इसी दौरान उनका संतुलन बिगड़ गया और वह नाले के तेज बहाव के साथ बहने लगे। वो तो गनीमत रही कि वहां मौजूद कार्यकर्ताओं ने उन्हें किसी तरह बचाया अन्यथा परिणाम बेहद गंभीर हो सकते थे। इस दौरान विधायक के हाथ पांव एवं माथे में बोल्डरों की चपेट में आने से चोट भी आई है।

बाल बाल बचे धारचूला विधायक हरीश धामी

Posted by Amit Nautiyal on Thursday, 30 July 2020

यह भी पढ़ें- उत्तराखण्ड: पिथौरागढ़ में आपदा का कहर जारी, भारी वर्षा से हुए भूस्खलन में दो लोग लापता, बद्रीनाथ हाइवे भी बंद..

लेख शेयर करे

Comments

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

VIDEO

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

Advertisement
To Top