Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
alt="Leopard attack pithoragarh"

उत्तराखण्ड

पिथौरागढ़

पिथौरागढ़: गुलदार के हमले से घायल रिया की हुई प्लास्टिक सर्जरी, रखा गया है आईसीयू में

alt="Leopard attack pithoragarh"

गौरतलब है कि बीते 30 दिसंबर को राज्य के पिथौरागढ़ जिले के मूनाकोट विकास खंड में स्थित गंगासेरी ग्रामसभा के चौक्याल गांव निवासी राकेश पांडेय की आठ वर्षीय पुत्री रिया पांडेय गुलदार के हमले से गम्भीर रूप से घायल हो गई थी। गम्भीर रूप से घायल रिया को हल्द्वानी के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां उसकी हालत अभी भी नाज़ुक बनी हुई है और वह जिंदगी-मौत के बीच जंग लड़ रही है। गुलदार के हमले से रिया के चेहरे का मांस भी बुरी तरह फट गया था जिस कारण बीते मंगलवार को हल्द्वानी के बृजलाल अस्पताल में भर्ती रिया की सफल प्लास्टिक सर्जरी की गई। अस्पताल के प्लास्टिक सर्जरी स्पेशलिस्ट सर्जन के अनुसार इस सर्जरी में रिया के चेहरे पर 278 टांके लगाए गए हैं। गम्भीर रूप से घायल रिया की नाजुक हालत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उसे अभी भी आईसीयू में रखा गया है। चिकित्सकों का यह भी कहना है कि सांस की नली क्षतिग्रस्त होने के कारण रिया के गले का भी आपरेशन किया जाएगा।




गुलदार को पकड़ने के लिए वनविभाग ने गांव में लगाया पिंजरा:- बता दें कि पिथौरागढ़ जिला मुख्यालय से 15 किमी दूर चौक्यालगांव निवासी राकेश पांडे पुत्री रिया पांडे को बीते सोमवार शाम चार बजे के आसपास एक गुलदार ने उस समय अपना निवाला बना लिया था जब वह घर से 50 मीटर की दूरी पर खेल रही थी। इस घटना के बाद से पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल था और ग्रामीणों ने वन विभाग से गुलदार को पकड़ने के लिए गांव में पिंजरा लगाने की मांग भी की थी। आक्रोशित ग्रामीणों की मांग को देखते हुए बीते मंगलवार को वन विभाग के कर्मचारी पिंजरा लेकर गांव में पहुंचे और उन्होंने ग्रामीणों के साथ मिलकर गांव के नजदीक ही पिंजरा लगाया। बताते चलें कि राकेश का परिवार वर्तमान में हल्द्वानी में रहता है। बीते 23 दिसंबर को उसकी आठ वर्षीय बेटी रिया अपनी मां के साथ छुट्टियां बिताने गांव आई हुई थी। रिया को गांव में आए हुए अभी एक सप्ताह ही हुआ था कि इस घटना से उसकी जान पर बन आई है और परिवार में कोहराम मचा हुआ है। रिया की मां किरन, पिता राकेश और दादा रमेश सहित सभी परिजनों की आंखों से तो आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे हैं।

यह भी पढ़ें-उत्तराखण्ड : पहाड़ में गुलदार ने 8 वर्षीय बच्ची पर किया हमला, गम्भीर हालत में हायर सेंटर रेफर


लेख शेयर करे

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top