Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
alt="Indian fighter jet"

कांगड़ा

हिमाँचल प्रदेश

बधाई : देवभूमि की बेटी उड़ाएगी श्रीनगर की वादियों में वायुसेना का फाइटर प्लेन

alt="Indian fighter jet"

M सेना में जाकर देशसेवा करना देवभूमि के हर वाशिंदे का सपना होता है। बात अगर देवभूमि की बेटियों की करें तो अब सेना में भी यहां की बेटियां बेटों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रही है। आज हम आपको उत्तराखंड के पड़ोसी राज्य हिमाचल की एक और ऐसी ही बेटी से रूबरू करा रहे हैं जो अब जम्मू-कश्मीर में वायुसेना का विमान उड़ाते हुए नजर आएंगी। जी हां.. देवभूमि हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले की रहने वाली जूबी कटोच की, जो बीते 21 दिसंबर को प्रशिक्षण पूरा कर वायुसेना में फ्लाइंग अफसर बन गई हैं। बता दें कि जूबी अब श्रीनगर एयरफोर्स स्टेशन में अपनी सेवाएं देंगी। जूबी की इस सफलता से उनके घर पर तो बधाई देने वालों का तांता लगा ही है साथ ही साथ पूरे क्षेत्र में भी हर्षोल्लास का माहौल है। जूबी अपनी इस सफलता का श्रेय अपने परिजनों और गुरुजनों को देती हैं। सबसे खास बात तो यह है कि जूबी एक सैन्य परिवार से ताल्लुक रखती है।




पिता-दादा हैं भारतीय सेना से सेवानिवृत्त तो परदादा थे आजाद हिंद फौज के सिपाही:-
मूल रूप से हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के अंदराणा की जूबी कटोच वायुसेना में फ्लाइंग अफसर बन गई हैं। अपनी बारहवीं तक की शिक्षा डीएवी स्कूल आलमपुर से पूरी करने वाली जूबी के पिता राजेश कटोच सेना में नौकरी करने के बाद वर्तमान में पटवारी के पद पर तैनात हैं और माता रंजना कटोच गृहिणी हैं। सबसे खास बात तो यह है कि एक सैन्य परिवार से ताल्लुक रखने वाली जुबी के दादा परसराम कटोच जहां भारतीय सेना से सेवानिवृत्त हैं वहीं जूबी के परदादा पृथी चंद कटोच भी आजाद हिंद फौज की ओर से देश के लिए लड़ते हुए 1942 के संग्राम में शहीद हुए थे। बता दें कि जूबी ने इंटर के बाद कृषि विवि पालमपुर में बीएससी की पढ़ाई पूरी करने के बाद केंद्रीय विवि से एमएससी की डिग्री हासिल की। तत्पश्चात उसने धर्मशाला कॉलेज से बीएड किया। उसके बाद वह एयरफोर्स के लिए चयनित हुईं। जिसके बाद उसने 31 दिसंबर, 2018 से हैदराबाद में प्रशिक्षण शुरू किया। जूबी की इस उपलब्धि से पूरे क्षेत्र में खुशी की लहर है।




लेख शेयर करे

More in कांगड़ा

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top