Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day

उत्तराखण्ड

पहाड़ी गैलरी

औली में बर्फ़बारी का नजारा देखिये :उत्तराखण्ड की ये खूबसूरत जगह स्विट्ज़रलैंड से कम नहीं है




लेख द्वारा –अनुराग रावत

मेरा नाम अनुराग रावत है ,मैं मूल रूप से टिहरी गढ़वाल का रहने वाला हूँ और वर्तमान में देहरादून ग्राफ़िक एरा यूनिवर्सिटी से कंप्यूटर साइंस में बीटेक कर रहा हूँ और मुझे ट्रैकिंग का बहुत शोक है और इस बार मैं आपके साथ अपनी ट्रैकिंग “औली भूभाग” की खूबसूरत वीडियो शेयर करना चाहता हूँ। देवभूमि उत्तराखंड एक ऐसी जगह है जहाँ प्रकृति ने दिल खोलकर सौंदर्य को बिखेरा है। यहाँ पर चमोली जिले में  स्थित एक छोटी सी जगह का नाम है ,औली।  चीड़ और देवदार के पेड़ो के बीच घिरी ये एक खूबसूरत जगह है। ये पूरी दुनिया में स्कीइंग के लिए प्रसिद्ध है। इस जगह को ’बुग्याल ’ भी कहा जाता है जिसका स्थानीय भाषा में अर्थ है ’घास का मैदान’। यहाँ समुद्र ताल से 2800मी ऊपर स्थित है। स्कीइंग के अलावा ये गढ़वाल में ट्रैकिंग के लिए भी एक बेहतर विकल्प है। औंस की ढलानों पर चलते हुए पर्यटक कामेत, नंदादेवी, मान पर्वत तथा दुनागिरी पर्वत श्रृंखला के अद्भुत नज़ारे देख सकते है।




” बर्फीली वादियों का जोर था
एक अनसुना सा शोर था
फिर भी खामोश मैं, थक गए कदम
फिर भी हौसलों में जोर था “
यहाँ पर एक कृत्रिम झील भी बनाई गयी है जो विशेष रूप में कम बर्फ़बारी के महीने में कृत्रिम बर्फ उपलब्ध करने के लिए उपयोग की जाती है। उत्तराखंड पर्यटक विभाग भारत में स्कीइंग को प्रोत्साहित करने के लिए औली में शीतकालीन खेल प्रतियोगिता का संचालन करता है। इसमें एक 4 किमी केबल कार और एक स्की लिफ्ट भी है। औली पर्यटक के लिए किसी ज़न्नत से कम नहीं है।




ऊँचे ऊँचे आसमान को छूते सफ़ेद चमकीले पहाड़ मीलों दूर तक फैली सफ़ेद बर्फ की चादर और दूर दूर तक दिखते बर्फीली चोटियों के दिलकश नज़ारे ! कभी कभी तो ये सुन्दर पहाड़ आसमान में बदलो को चीरते हुए ऊपर जाते हुए प्रतीत होते है। फिर भला आप ऐसी ज़न्नत को छोड़कर क्यों स्विट्जर्लेंड जाना पसंद करेंगे। बता दे की औली उत्तराखंड का एक छोटा सा कस्बा है जोकि हरिद्वार से लगभग 275 किलोमीटर दूर है जोशीमठ ,जोशीमठ से 16 किलोमीटर दूर है। वैसे तो यहाँ हर समय तापमान 0 डिग्री से नीचे रहता है मगर फ़िर भी यहाँ आने के लिए दिसम्बर से मार्च तक का समय ठीक रहता है। इसीलिए मैंने औली घूमने का निश्चय किया क्योंकि मुझे बचपन से बर्फीली चोटियों को देखने का शौक था। इसलिए मैंने अपने कुछ मित्रो के साथ ट्रैकिंग का प्लान बनाया और जो में आप सभी के साथ शेयर करना चाहता हूँ।




आप उत्तराखंड के विभिन्न हिल स्टेशन की खूबसूरत झलक हमारे यूट्यूब चैनल अपने ब्लॉग पर जरूर देखे-
अपने ब्लॉग पर क्लिक करे⇓
अपने ब्लॉग  

इंस्ट्राग्राम- अनुराग रावत  

इंस्ट्राग्राम – ह्रितिक बंगवाल

आप भी अपने आर्टिकल देवभूमि दर्शन मीडिया के साथ शेयर कर सकते है, हमे इस आईडी पर भेज सकते है – [email protected]
अथवा हमारे पेज देवभूमि दर्शन के मेसेज सेक्शन पर संपर्क करे-देवभूमि दर्शन

लेख शेयर करे
Continue Reading
You may also like...

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top