Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day

उत्तराखण्ड

पौड़ी गढ़वाल

छात्र संघ का आक्रोश: छात्रा को आग लगाने वाले सिरफिरे को जल्द से जल्द ‘फांसी’ देने की मांग



गौरतलब है कि पौड़ी तहसील की कफोलस्यूं पट्टी में एक सिरफिरे ने युवती को जिंदा जलाने की कोशिश की है। युवती पौड़ी परिसर से प्रयोगात्मक परीक्षा देकर स्कूटी से घर जा रही थी। रास्ते में सिरफरे युवक ने युवती को आग के हवाले कर दिया। युवती को 108 आपातकालीन सेवा के माध्यम से पौड़ी जिला अस्तपाल में भर्ती करवाया गया। डॉक्टरों ने युवती की गंभीर हालत को देखते हुए उसे मेडिकल कॉलेज श्रीनगर के लिए रेफर कर दिया है। जानकारी के मुताबिक छात्रा की हालत लगातार बिगड़ रही थी। इसके चलते छात्रा को मेडिकल कालेज श्रीनगर से देर रात ऋषिकेश एम्स के लिए रेफर कर दिया गया है। वहीं सूचना के अनुसार अभी छात्रा को दिल्ली एम्स भेजने की तैयारी चल रही है।




रविवार को देर सांय को हुई इस खौफनाक वारदात से छात्रों में काफी रोष बढ़ गया है। छात्र संघ बीजीआर केंपस पौड़ी के छात्र संघ अध्यक्ष अरविंद नैथानी व गौरव सागर के नेतृत्व में छात्र छात्राओं ने जिलाधिकारी कार्यालय के मुख्य गेट पर धरना प्रदर्शन कर चक्का जाम लगाया । जिलाधिकारी कार्यालय के बाहर युवाओं ने प्रदर्शन किया। छात्र- छात्राओं की मांग है कि आरोपी को तुरंत फांसी की सजा दी जाए । छात्रों ने सरकार से पीड़ित छात्रा का उपचार करने की मांग भी की है। इस पुलिस प्रशासन भी मौके पर पहुंचा। कोतवाल पौड़ी मनोज रतूड़ी ने भी छात्रों को समझाने को कहा। लेकिन छात्र नहीं माने , चक्का जाम लगा कर रखा गया है। छात्रों ने प्रशासन से लीखित आश्वासन मांगा है। इस मौके पर नितिन रावत, एबीवीपी दीपक रावत, एबीवीपी आशीष नेगी, एनएसयूआई सोनी, एनएसयूआई अर्शी कुरेशी, एबीवीपी सिमरन भंडारी जय हो भारत भूषण आर्यन, कांग्रेस के भगवान टम्टा, धर्मबीर रावत, अद्योत बहुगुणाआदि छात्र-छात्राएं कार्यक्रम में शामिल है। वहीं राजस्व पुलिस ने आईपीसी की धारा 354 307 और 506 की धाराओं में हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज कर लिया है।




जानकारी के अनुसार  पौड़ी  तहसील की कफोलस्यूं पट्टी के एक गांव की 18 वर्षीय युवती रविवार को बीएससी की प्रयोगात्मक परीक्षा देकर स्कूटी से घर लौट रही थी। रास्ते में गहड़ गांव का मनोज सिंह उर्फ बंटी उसका पीछा करने लगा। बंटी टैक्सी चालक बताया जा रहा है। पीछा करते करते कुछ देर बाद एक सुनसान जगह कच्चे रास्ते पर उसने छात्रा को जबरन रोककर उससे जबरदस्ती करनी शुरू कर दी। छात्रा के विरोध करने पर आरोपी ने उसके ऊपर पेट्रोल छिड़कर आग लगा दी और मौके से फरार हो गया। खबर है की छात्रा ने बड़ी मुश्किल से खुद की आग बुझाई , सुनसान जगह होने की वजह से गांव काफी दूर थे जिसकी वजह से छात्रा की चीख पुकार भी किसी को नहीं सुनाई दी। छात्रा काफी देर तक वही पड़ी रही , मौके से गुजर रहे एक ग्रामीण ने छात्रा को जली हुई हालत में रास्ते में पड़ा देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी।




लेख शेयर करे

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top