Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
alt="elephant attack on bus in uttarakhand"

उत्तराखण्ड

नैनीताल

केमू की बस पर हाथी का हमला, यात्रियों में मची भगदड़ एक शिक्षक को सूंड से पटक- पटक कर मार डाला

alt="elephant attack on bus in uttarakhand"

देवभूमि उत्तराखंड में हाथियों ‌का आतंक थमने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा मामले में इस बार एक हाथी ने केमू की बस को अपना शिकार बनाया। हाथी द्वारा अचानक किए गए हमले से सभी यात्री सहम गए और घटनास्थल पर चीख-पुकार मच गई। आज सुबह हुई इस घटना ने जहां पूरी बस में भगदड़ की स्थिति पैदा हो गई वहीं हाथी ने अपनी सूंड से एक यात्री पर भी हमला कर दिया। हाथी के हमले से गम्भीर रूप से घायल इस यात्री ने घटनास्थल पर ही दम तोड दिया। बताया गया है कि मृतक यात्री एक अध्यापक था। बस की बदतर हालत देखकर ही इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है कि हाथी ने कितना उत्पात मचाया होगा। बता दें कि इस मार्ग पर हाथियों द्वारा बीते एक साल में ही न जाने कितने वाहनों को अपना शिकार बनाया जा चुका है, जिसमें क‌ई यात्री चोटिल भी हुए हैं परन्तु अभी तक हाथियों को रोकने के लिए प्रशासन द्वारा कोई भी उचित कदम नहीं उठाया गया है।




प्राप्त जानकारी के अनुसार एन‌एच 121 पर आज सुबह एक केमु की बस रामनगर से बागेश्वर की ओर जा रही थी। जैसे ही यह बस चिमटाखाल के पास पहुंची तो बस पर सामने से एक हाथी ने अचानक हमला कर दिया। हाथी ने पहले तो बस को अपना शिकार बनाते हुए उसके शीशे तोड दिए फिर उसने यात्रियों को अपना शिकार बनाना शुरू कर दिया। हाथी के द्वारा अचानक किए गए इस हमले से सभी यात्रियों की सांसें थम गई। हाथी ने एक यात्री को अपनी सूंड से इधर-उधर पटककर गम्भीर रूप से इतना घायल कर दिया कि उसने घटनास्थल पर ही दम तोड दिया। मृतक की पहचान पम्पापुर निवासी गिरीश पांडे के रूप में की गई है। बताया गया है कि मृतक यात्री एक शिक्षक था जो कि पिछले दो वर्षो से राजकीय इंटर कॉलेज न्योली में संस्कृत के लेक्चरर के पद पर तैनात था। घटना में बस में सवार अन्य क‌ई यात्रियों को भी हल्की-फुल्की चोटें आई हैं।




लेख शेयर करे

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top