Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
alt=" bageshawr marraige vehicle acident"

उत्तराखण्ड

बागेश्वर

बागेश्वर सड़क दुर्घटना: कार खुद चला रहे थे दुल्हे के पिता, घायलों ने बताया दुर्घटना होने का कारण

alt=" bageshawr marraige vehicle acident"दहसत में अब उत्तराखण्ड ये दहसत है सड़क हादसों की जिसकी मार फिर झेलनी पड़ी बागेश्वर जिले के एक परिवार को। घर में शादी का जश्न चारो तरफ खुशी का माहौल और अचानक बारात वापसी में एक दर्दनाक सड़क हादसे ने शादी की सारी खुशियों को पलभर में मातम में बदल दिया। घर पर खबर लगते ही जश्न की वो आवाजें रुधन में तब्दील हो गयी। घटना शनिवार सुबह की है, जब कलना बैंड के पास बरातियों से भरी एक ऑल्टो कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई। घटना में दूल्हे के पिता विनोद पंत की मौत हो गई और चार माह के बच्चे सहित चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। बता दे की विनोद पंत भाजपा कार्यकर्ता थे, और क्षेत्र में अपने कुशल व्यवहार के लिए जाने जाते थे, साथ ही वो सामाजिक गतिविधियों में भी बढ़चढ़कर भागीदारी करते थे। गौरतलब है की बीते शुक्रवार की देर रात गोखुरी गांव से जिला मुख्यालय स्थित निजी बरातघर में विनय पंत पुत्र विनोद पंत की बरात आई थी। शादी रात की थी और  रात में शादी शांतिपूर्वक संपन्न  भी हो गई। शनिवार की सुबह करीब सात बजे बरात की विदाई हो गई। दूल्हा विनय पंत अपनी दुल्हन हिमानी के साथ एक कार में रवाना हुए।  दूल्हे की गाड़ी के पीछे ही अन्य बरातियों की गाड़ी थी। पांच किमी दूर कलना बैंड के पास कार पहुंचते ही अनियंत्रित होकर खाई में पलट गई।




दुल्हे के पिता खुद चला रहे थे गाड़ी: बारात की गाड़ियों में सबसे अंत में दूल्हे के पिता विनोद पंत की कार थी जिसे वो स्वयं चला रहे थे। उनकी ऑल्टो कार संख्या यूके02-5754 में उनके साथ बहू-नाती, बहन व अन्य रिश्तेदारों बैठे हुए थे जैसे ही उनकी कार बागेश्वर से पांच किमी दूर बागेश्वर-कांडा मार्ग पर कलना बैंड के पास पहुंची तो अचानक अनियंत्रित होकर खाई में गिर गई और तीन-चार पलटी खाने के बाद सड़क से करीब 150 फीट नीचे एक पेड़ से टकराकर रूक गई जिससे कार के आगे का दरवाजा खुल गया। जिससे उनकी बहू मोनिका पंत पत्नी अखिलेश पंत व उसका चार माह का बेटा विहान खाई में गिरने लगे। जिन्हें बचाने के चक्कर में विनोद पंत भी खाई में गिर गए और उनकी मौके पर ही मौत हो गई जबकि उनकी बहू और चार माह का छोटा-सा नाती विहान गम्भीर रूप से घायल हो गए। कार में सवार अन्य तीन लोग भी घायल हुए हैं। घायलों का ये भी कहना है की नींद की झपकी लगने से, अचानक गाड़ी अपना नियंत्रण खो बैठी और अनियंत्रित होकर गहरी खाई में जा समा बैठी। हादसे की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय ग्रामीणों की सहायता से सभी घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया जहां से चिकित्सकों ने मोनिका पंत की नाजुक हालत को देखते हुए दूल्हे की भाभी को हल्द्वानी रेफर किया गया है। हादसे में चार माह के नवजात समेत चार रिश्तेदार घायल हैं। मृतक की पत्नी मीना देवी तो इस खबर को सहन नहीं कर सकी और उन्हें भी जिला अस्पताल बागेश्वर में भर्ती कराने की नौबत आ गई।




लेख शेयर करे

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top