Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
alt="uttarakhand martr gurbaj Singh in Indian army"

उत्तराखण्ड

ऊधमसिंह नगर

भारतीय सेना में तैनात उत्तराखंड के जवान की ड्यूटी के दौरान मौत, सैन्य सम्मान के साथ हुई अंत्येष्टि

indian army image: शादी के एक महीने बाद ही पति का शव देखकर बेहोश हुई पत्नी, मां का भी रो-रोकर बुरा हाल..

भारतीय सेना में तैनात राज्य के उधमसिंह नगर जिले के एक वीर जवान की मौत की खबर चंडीगढ़ से आ रही है। बताया गया है कि मृतक जवान का लगभग एक हफ्ते पहले सेना के ट्रक से गिर गया था, जिससे वह गम्भीर रूप से घायल हो गया था। ट्रक में तैनात सेना के अन्य जवानों द्वारा हादसे के बाद तुरंत उसे चंडीगढ़ स्थित सेना के अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां वह बीते एक हफ्ते से जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहा था। जानकारी के मुताबिक बीते बुधवार को उसकी तबीयत अचानक बहुत बिगड़ गई और‌ इलाज के दौरान ही वह जिंदगी-मौत की यह जंग हार गया। जवान की अचानक मौत का दुखद समाचार मिलते ही उसके परिवार में कोहराम मच गया। गुरुवार देर रात जैसे ही जवान का पार्थिव शरीर उनके घर पहुंचा तो परिजन बेसुध हो गए। शुक्रवार को गमहीन माहौल में मृतक जवान का अंतिम संस्कार पूरे सैन्य सम्मान के साथ किया गया। बताया गया है कि मृतक जवान की अभी हाल में बीते 23 फरवरी को ही शादी हुई थी और वह बीते 13 मार्च को अपनी छुट्टियां समाप्त कर घर से वापस ड्यूटी पर गया था।


यह भी पढ़ें- उत्तराखण्ड: सीएम ने की घोषणा 31 तारीख को प्रदेश के भीतर कहीं भी कर सकते हैं यात्रा, देखे विडियो

चंडीगढ़ स्थित सेना अस्पताल में ही तैनात था 29 वर्षीय मृतक जवान: प्राप्त जानकारी के अनुसार राज्य के उधमसिंह नगर जिले के गदरपुर के गांव डलपुरा का रहने वाला गुरबाज सिंह संधू पुत्र रजवंत सिंह संधू भारतीय सेना में था। वर्तमान में 29 वर्षीय गुरबाज की तैनाती चंडीगढ़ के आर्मी अस्पताल में थी। बताया गया है कि गुरबाज वर्ष 2013 में भारतीय सेना में भर्ती हुआ था। जहां एक सप्ताह पहले वह चंडीगढ़ में ही ड्यूटी के दौरान सेना के ट्रक से उतरते समय गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गया था। जिसके बाद साथी जवानों द्वारा उसे चंडीगढ़ के आर्मी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उसका लगातार इलाज चल रहा था। मिली जानकारी के अनुसार बीते बुधवार को उसकी तबीयत अचानक ज्यादा बिगड़ गई और उसने अस्पताल में इलाज के दौरान ही अपना दम तोड दिया। जवान बेटे की मौत का दुखद समाचार जैसे ही परिजनों को मिला तो वह बेसुध हो गए। गुरुवार देर शाम को जैसे ही मृतक जवान ‌का पार्थिव शरीर उनके घर पहुंचा तो जहां परिवार में कोहराम मच गया वहीं पूरा गांव भी शोक में डूब गया। शादी के एक महीने बाद ही पति का शव देखकर जहां मृतक जवान की पत्नी रजविंदर कौर का रो-रोकर बुरा हाल था वहीं मृतक की मां जसबीर कौर की आंखों से भी आंसू नहीं थम रहे थे। मृतक जवान का शव देखकर दोनों ही रोते-बिलखते बेहोश हो गई। परिवार के अंतिम दर्शन के बाद शुक्रवार को जवान का अंतिम संस्कार पूरे सैन्य सम्मान के साथ गांव के पैतृक घाट पर किया गया जहां मृतक के पिता रजवंत सिंह संधू ने चिता को मुखाग्नि दी।


यह भी पढ़ें- उत्तराखण्ड: दोनों बेटे फंसे दिल्ली में पहाड़ में पिता की मौत, सासंद अजय टम्टा बने फरिश्ता

लेख शेयर करे

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top