Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
alt="constable rajendra blood donate to injured women"

उत्तराखण्ड

पौड़ी गढ़वाल

घायल हुई महिला को नहीं मिला ब्लड तो खुद कॉन्स्टेबल राजेंद्र नेगी ने रक्तदान कर बचाई जान

alt="constable rajendra blood donate to injured women"हमारे समाज में ऐसे अनेक लोग मौजूद है जो दीन-दुखियों की सेवा को ही अपना परम कर्तव्य मानते हैं। मानवता और इंसानियत को ही सबसे बड़ा धर्म मानने वाले ये समाजसेवी जरुरतमंदों की सेवा को हमेशा तत्पर रहते हैं। देवभूमि उत्तराखंड में भी जहां ऐसे लोगों की कोई कमी नहीं है जो समाजसेवा को ही अपना परम कर्तव्य मानते हों वही उत्तराखंड पुलिस भी ऐसे कई जवानों से भरी हुई है जो समय-समय पर जरूरतमंदों की मदद कर समाज में मानवता की एक ऐसी मिसाल पेश करते रहते हैं जिसके लिए पुलिस के इन जवानों की जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है। आज हम आपको उत्तराखंड पुलिस के एक ऐसे ही जवान से रूबरू करा रहे हैं जिसने जरूरतमंद घायल महिला की मदद कर उत्तराखंड पुलिस के स्लोगन ‘उत्तराखंड पुलिस- आपकी मित्र‘ को एक बार फिर सही साबित करके दिखाया है। जी हां… हम बात कर रहे हैं राजेंद्र नेगी की जिन्होंने सड़क दुर्घटना में गंभीर घायल महिला को समय पर रक्तदान देकर उसकी जान बचा ली।




बता दें कि राज्य के पौड़ी गढ़वाल जिले के कोटद्वार थाने में कांस्टेबल के पद पर तैनात राजेंद्र नेगी ने सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल महिला को समय पर खून देकर उसकी जान बचा ली। उत्तराखंड पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार आज सुबह कोटद्वार थाने में सूचना मिली कि सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल एक महिला को खून चढ़ाने की अति आवश्यकता है। सूचना में महिला का ब्लड ग्रुप A+ बताया गया। सूचना मिलते ही राजेंद्र, जिनका ब्लड ग्रुप खुद A+ है, महिला को खून देने के लिए सहर्ष तैयार हो गए। उन्होंने समय रहते अस्पताल पहुंचकर रक्तदान करके असहाय महिला की जान बचा ली। कांस्टेबल राजेंद्र नेगी ने एक बार फिर साबित करके बता दिया कि आखिर उत्तराखंड पुलिस को मित्र पुलिस क्यों कहा जाता है। अनजान महिला को खून देकर उसकी जान बचाने वाले राजेंद्र ने एक बार फिर मानवता की ऐसी मिसाल पेश की है जो वाकई काबिले तारीफ है।




लेख शेयर करे

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top