Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day

उत्तराखण्ड

हरिद्वार

उत्तराखण्ड भाजपा नेता के घर की डोर बेल बजी बेटी ने खोला दरवाजा, हुई ऐसी वारदात की मच गया कोहराम

लोकसभा चुनाव के माहौल में इन दिनों ‘चौकीदार चोर है’ और ‘मैं भी चौकीदार हूं’ के नारे बुलंद हैं परन्तु आज राज्य के हरिद्वार जिले में एक ऐसी घटनाएं हुई जिसने इन नारों को आइना दिखाने का काम किया। दरअसल भाजपा के सभी नेता एवं कार्यकर्ताओं ने इन दिनों अपने नाम के आगे चौकीदार शब्द जोड़ रखा है अब जब उनके घर ही चोरी हो जाए तो कांग्रेस पार्टी के चोकीदार चोर है के नारे की भी हवा निकल जाएगी। राज्य के हरिद्वार जिले में चोरी की एक ऐसी ही घटना हुई। घटना हरिद्वार के भाजपा नेता एवं जिला पंचायत सदस्य प्रीति चौहान के घर की है। जिला पंचायत सदस्य प्रीति चौहान एवं उनकी पुत्री को बंधक बनाकर बदमाश उनके घर से लॉकर और अलमारी में रखे सोने हीरे के जेवर और ढाई लाख की रकम लेने के बाद फरार हो ग‌ए। उक्त घटना का पता तब चला जब बाथरूम में बंद प्रीति‌ की चीख पुकार सुनकर पड़ोसी युवक ने बाहर से दरवाजे का कुंडा खोला तो लोगों को घटना का पता चला।जिला पंचायत सदस्य एवं भाजपा नेता के घर से हुई इस चोरी की वारदात से क्षेत्र में हड़कंप मच गया है।




क्या है पूरा मामला : प्राप्त जानकारी के अनुसार हरिद्वार  जिले के लक्सर पट्टी के गांव हरसीवाला के रहने वाले भाजपा नेता और स्टोन क्रशर मालिक कदम सिंह चौहान की पत्नी प्रीति चौहान हबीपुर सीट से जिला पंचायत सदस्य हैं। वर्तमान में वह परिवार के साथ कनखल की संदेश नगर कालोनी में रहते हैं। शनिवार को भाजपा नेता चौहान लोकसभा उम्मीदवार निशंक के चुनाव प्रचार में ग‌ए हुए थे। घर पर उनकी पत्नी एवं छः साल की बेटी माही थी। दोपहर के करीब 2 बजे किसी ने उनके घर की डोर बेल बजायी। डोर बेल की आवाज सुनकर जैसे ही उनकी बेटी माही ने दरवाजा खोला तो दरवाजा खोलते ही तीन नकाबपोश बदमाश उनके घर में दाखिल हो ‌ग‌ए। अंदर घुसते  ही उन्होंने धारदार हथियार के बल‌ पर मां-बेटी को बंधक बना लिया। विरोध करने पर वह बेटी को मारने की धमकी देकर अलमारी में रखे डिजिटल लॉकर का पासवर्ड मांगने लगे। धमकी से डरी हुई प्रीति ने जब उन्हें पासवर्ड बताया तो वह लॉकर और अलमारी में रखे सोने हीरे के जेवर और ढाई लाख की रकम लेने के बाद प्रीति को बाथरूम में बंद कर वहां से फरार हो गए। घटना की सूचना मिलते ‌ही एसओ कनखल हरिओमराज चौहान, सीआईयू प्रभारी राजीव चौहान, एसआई ओमकांत भूषण मौके पर पहुंचे और उन्होंने ‌पीडिता के बयानों के आधार पर बदमाशों के खिलाफ लूटपाट की रिपोर्ट दर्ज की।




लेख शेयर करे

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top