Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day

देवभूमि दर्शन

सिनेमा जगत

उत्तराखण्ड में किन जगहों पर शूट की गयी थी विवाह फिल्म और अमृता राव ने डायरेक्टर से क्या कहा उत्तराखण्ड के बारे में

“मिलन अभी आधा अधुरा है” जैसे गीत और अपनी बेहतरीन कहानी से लोगों के दिलों में राज करने वाली विवाह फिल्म ने अभिनेता शाहिद कपूर को खासी पहचान दिलाई। विवाह फिल्म से अभिनेता शाहिद कपूर की जिंदगी में नया दौर आया। यह वो दौर था जिस समय शाहिद अधिकांश लड़कियों के पसंदीदा अभिनेता बन ग‌ए। ये देवभूमि उत्तराखंड के देवी-देवताओं का आशीर्वाद ही था जिसने शाहिद को एक ही झटके में उस समय का सबसे लोकप्रिय अभिनेता बना दिया। ये बात खुद शाहिद भी मानते हैं कि उत्तराखंड में बनी विवाह फिल्म ने उन्हें खासी पहचान दिलाई इसलिए फिल्म की अभिनेत्री अमृता राव सहित खुद शाहिद आज भी उत्तराखण्ड की तारीफ करते नहीं थकते हैं। बता दें कि सूरज बड़जात्या के निर्देशन में बनी विवाह फिल्म सन 2006 में रिलीज हुई थी। इस फिल्म का अधिकांश भाग देवभूमि उत्तराखंड की हसीन वादियों के साथ ही यहां के ऐतिहासिक मंदिरों में भी शूट किया गया था। आज हम आपको देवभूमि के उन्हीं स्थानों से रूबरू करा रहे हैं जहां विवाह फिल्म शूट की गई थी।




बता दें कि उत्तराखण्ड की हसीन वादियां न सिर्फ देश-विदेश के पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है बल्कि फिल्म अभिनेताओं और फिल्म निर्माताओं को भी आमंत्रित करती है। यही कारण है कि वर्तमान में देवभूमि उत्तराखंड भी वालीवुड के लिए शूटिंग का प्रमुख केन्द्र बन चुका है। बात विवाह फिल्म की भी करें तो इस फिल्म की अधिकांश शूटिंग देवभूमि उत्तराखंड के विभिन्न जनपदों में की गई थी जिनमें नैनीताल और अल्मोड़ा प्रमुख हैं। फिल्म में नैनीताल के वीरभट्टी स्थित प्रेमा जगाती स्कूल को अमृता राव (पूनम) के पैतृक घर के रूप में दिखाया गया था। नैनीताल के रूट में ही स्थित एक गांव को सामसरोवर नाम से पूनम के गांव के रूप में दिखाया गया था। इतना ही नहीं इस गांव में ही फिल्म के कुछ गाने भी शूट किए गए थे।




फिल्म के कुछ दृश्यों को अल्मोड़ा जिले के रानीखेत स्थित गोल्फ ग्राउंड में भी शूट किए गए थे और इन दृश्यों को फिल्म में चीड़ के पेड़ों के साथ जोड़कर दिखाया गया था। ये सारे ही स्थान रानीखेत में ही पड़ते हैं। रानीखेत ही वह स्थान था जहां फिल्म के एक सीन के दौरान प्रेम को अपनी भाभी के साथ सुबह की मोनिँग वाल्क करते हुए दिखाया गया था। एक पारिवारिक फिल्म के रूप में सामने आई विवाह की लोकप्रियता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इस फिल्म को लोगों द्वारा दो या तीन बार देखा गया। सबसे खास बात तो यह है कि जब यह फिल्म रिलीज हुई थी उस समय फिल्मों को लोग सीडी में देखते थे। उत्तराखंड में तो उस समय सिनेमा हॉल भी उतने अच्छे नहीं थे कि कोई फिल्म अपने रिलीज के दिन ही इनमें लग सके। सबसे खास बात तो यह है कि इस फिल्म के लिए शाहिद कपूर और अमृता राव को स्क्रीन अवार्ड में बेस्ट अभिनेता और अभिनेत्री के लिए भी नामित किया गया था।




वैसे तो विवाह फिल्म के सभी गीत लोकप्रिय हुए परंतु इस फिल्म के ‘मिलन अभी आधा अधुरा है..’ गीत को लोगों द्वारा काफी सराहा गया। बताते चलें कि इस गीत की शूटिंग प्रसिद्ध जागेश्वर मंदिर में हुई थी, जो अल्मोड़ा जिले में स्थित है। इस मंदिर के साथ ही गोलू देवता के विश्व प्रसिद्ध चित‌ई मंदिर में भी फिल्म के कुछ दृश्यों को उस वक्त शूट किया गया था जब पूनम और प्रेम अपने परिवार के साथ भगवान के दर्शन के लिए मंदिर जाते हैं अर्थात वह मंदिर अल्मोड़ा जिले में स्थित चित‌ई गोलू देवता का मंदिर ही था। फिल्म की अभिनेत्री अमृता राव तो उत्तराखण्ड की खूबसूरती से इतनी प्रभावित हुई थी कि उन्होंने फिल्म के डायरेक्टर से शूटिंग का समय और अधिक बढ़ाने को भी कह दिया था। अपने एक इंटरव्यू में तो अमृता देवभूमि उत्तराखंड की इतनी अधिक तारीफ कर चुकी है कि उन्हें शब्दों के रूप में पिरोया नहीं जा सकता।

लेख शेयर करे
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

More in देवभूमि दर्शन

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top