Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
alt="almora girl sucide"

अल्मोड़ा

उत्तराखण्ड

अल्मोड़ा: मां ने टीवी देखने से मना किया तो बेटी ने खाया जहर, डाक्टरों ने किया मृत घोषित

alt="almora girl sucide"
आज का दौर ऐसा है जहाँ बच्चे माता पिता की हल्की डांट फटकार को भी गंभीरता से ले लेते है, और फिर ऐसी घटना को अंजाम देते है जो उनकी जिंदगी पर आ बनती है। ऐसी ही एक खबर राज्य के अल्मोड़ा जिले से आ रही है जहाँ एक 19 वर्षीया लड़की ने सिर्फ इसलिए आत्महत्या कर ली की उसकी माँ ने उसे टीवी देखने से मना कर दिया। मामला भिकियांसैंण तहसील सबोली गांव का है। शनिवार की शाम उनकी 19 वर्षीया बेटी बबीता पड़ोस में टीवी देखने गई थी। काम से घर लौटी मां ने बबीता को इस पर डांट लगा दी की घर पर इतना काम है और वो टीवी देख रही है, मां की डांट से नाराज होकर बबीता खेतों की तरफ चली गई। कुछ देर बार बबीता की चिल्लाने की आवाज आई। परिजन खेतों की तरफ गए तो वह चिल्लाते हुए उल्टियां कर रही थी। बबिता ने ऐसा गलत कदम उठाने से पहले सोचा भी नहीं की तरह माँ मजदूरी कर उनका भरण पोषण कर रही है। बता दे की बबीता के पिता राजेंद्र सिंह की मौत 14 साल पहले हो गई थी। मां रेवती देवी मजदूरी कर बच्चों का भरण पोषण कर रही थी।





प्राप्त जानकारी के अनुसार सबोली गांव निवासी रेवती देवी भवन निर्माण में मजदूरी करती हैं। काम से घर लौटी मां ने बबीता को इस पर डांट लगा दी। मां की डांट से नाराज होकर बबीता खेतों की तरफ चली गई। कुछ देर बार बबीता की चिल्लाने की आवाज आई। परिजन खेतों की तरफ गए तो वह वहां उल्टियां कर रही थी। परिजन आनन-फानन में उसे उपचार के लिए भिकियासैंण के अस्पताल ले गए। यहां डॉक्टरों ने उसे राजकीय चिकित्सालय रानीखेत के लिए रेफर कर दिया। 108 के माध्यम से बबीता को रानीखेत अस्पताल लाया गया। यहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पोस्टमार्टम करने वाले डॉ. दीप पार्की ने कहा कि प्रथम दृष्टया जहर से मौत का अंदेशा है।




लेख शेयर करे

More in अल्मोड़ा

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top