Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
alt="uttarakhand forest fire"

उत्तराखण्ड

बागेश्वर

बागेश्वर: पुड़कुनी के जंगलो में आग लगाने वाला गिरफ्तार, दो महिलाएं जली थी जिंदा

uttarakhand: जंगल में जानबूझकर लगाई थी आग, दो महिलाएं जलकर हुई थी राख…

हमारे समाज में ऐसे असामाजिक तत्वों की कोई कमी नहीं है जिनका उद्देश्य हमेशा अपने गलत कामों से लोगों को परेशान करना होता है। ऐसे लोगों का दिमाग हर वक्त इसी उधेड़बुन में लगा रहता है कि कैसे दूसरों को मुश्किल में डाला जाए। पहाड़ में भी ऐसे असामाजिक तत्वों की भरमार है। ये लोग कभी पानी की लाइन तोड़कर तो कभी जंगल में आग लगाकर न सिर्फ गांव के अन्य लोगों को परेशान करते हैं अपितु पूरे प्राकृतिक संतुलन को भी बिगाड़ देते हैं। इसका जीता जागता उदाहरण राज्य के बागेश्वर जिले से सामने आ रहा है जहां एक व्यक्ति ने जानबूझकर जंगल में आग लगा दी। बता दें कि देखते ही देखते इस आग ने इतना विकराल रूप धारण कर लिया कि उसमें दो महिलाएं जिंदा जल ग‌ई। जंगल में आग लगाने वाले इस व्यक्ति को अब पुलिस ने गिरफ्तार करके सलाखों के पीछे भेज दिया है और अब उसे अदालत में पेश करने की तैयारी में जुटी हुई है। बताया गया है कि गिरफ्तार करने वाले टीम में उपनिरीक्षक सुष्मिता राणा, कांस्टेबल भगत राम, त्रिभुवन मर्तोलिया आदि शामिल थे।


यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: पहाड़ में दुखद घटना ,जंगल की आग में जिंदा जली दो महिलाएं, मदद के लिए चिखती रही

पुलिस कर रही अब अदालत में पेश करने की तैयारी:-

गौरतलब है कि बीते 4 अप्रैल को राज्य के बागेश्वर जिले के कपकोट तहसील के चचई गांव की नंदी देवी और इंद्रा देवी की पुड़कुनी के जंगल में लगी आग में झुलस कर मौत हो गई थी।पुलिस को सूचना मिली कि जंगल में यह आग अपने आप नहीं लगी अपितु गांव के किसी व्यक्ति द्वारा जानबूझकर लगाई गई थी। जिस पर पुलिस ने आग लगाने वाले की खोजबीन कर रही थी। पुलिस की जांच में सामने आया कि जंगल में यह आग पुड़कुनी निवासी धर्म सिंह पुत्र लक्ष्मण सिंह ने लगाई थी। जिस पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। बताया गया है कि उसके खिलाफ धारा-304 भादवि व 26(ख) वन अधिनियम में मामला दर्ज किया गया है। पुलिस अब आरोपी को अदालत में पेश करते की तैयारी कर रही है। बताते चलें कि जंगल की आग में जलने वाली एक महिला का शव रात को बरामद हो गया था जबकि दूसरी महिला का शव दूसरे दिन रविवार सुबह बरामद हुआ। दोनों मृतक महिलाओं के साथ जंगल ग‌ई तीसरी महिला गंगा ने बमुश्किल भागकर अपनी जान बचाई थी।


यह भी पढ़ें- उत्तराखण्ड: पहाड़ तक पहुँचे जमाती.. अल्मोड़ा जिले में मिला पहला कोरोना पोजिटिव केस

लेख शेयर करे

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top