Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
alt="Almora landslide"

अल्मोड़ा

उत्तराखण्ड

अल्मोड़ा : बहुत जल्द घर आनी थी बेटी की बारात लेकिन माँ ने हमेशा के लिए विदा किया बेटी को

alt="Almora landslide"

एक मां जो अपनी बेटी की शादी के सपने संजोए हुए बैठी थी यहां तक कि घर पर सारी तैयारियां भी पूरे जोर-शोर से चल रही थी.. लेकिन किसको पता था जिस बेटी की ढाई महीने बाद शादी पर विदाई होनी थी, वहीं बेटी शादी से पहले ही घर से हमेशा के लिए विदा हो जाएगी। जी हां.. हम बात कर रहे हैं अल्मोड़ा जिले के धौलादेवी विकासखंड के जाजर गांव में रहने वाली कलावती देवी की 20 वर्षीय पुत्री भावना ‌की, जिसकी कल सुबह हुए भूस्खलन के कारण मकान के मलबे में दब जाने से मौत हो गई थी। बता दें कि करीब एक वर्ष पहले ही कलावती के पति का हार्ट अटैक आने से निधन हो गया था। जैसे तैसे कलावती घर की सारी जिम्मेदारियों को अच्छे से निभाते हुए परिस्थितियों को संभालने की कोशिश कर रही थी कि कुदरत ने एक बार फिर उसके आंगन से जवान बेटी की अर्थी उठा ली। कलावती के हंसते खेलते परिवार पर एक बार फिर इस तरह दुखों का पहाड़ टूट पड़ेगा इसका किसी को अनुमान भी नहीं था।




गौरतलब है कि अल्मोड़ा जिले के धौलादेवी विकासखंड के अन्तर्गत आने वाले दूरस्थ गांव जाजर में मंगलवार सुबह तेज बारिश के कारण भूस्खलन होने से कलावती देवी पत्नी स्व.देवीदत्त का मकान मलबे की चपेट में आने से धराशाई हो गया था जिसकी चपेट में आने से घर में सो रही कलावती देवी की 20 वर्षीय पुत्री भावना की मौत हो गई थी। बता दें कि मृतक भावना का करीब ढाई महीने बाद 21 नवंबर को विवाह होना था। जिसके कारण परिवार में इन दिनों हंसी-खुशी का माहौल था एवं परिवार वालों ने बेटी की शादी की सभी तैयारियां भी लगभग पूरी कर ली थी, लेकिन शायद नियति को यह मंजूर नहीं था। मां कलावती ने तो बेटी के लिए डेढ़ तोले की नथ और अन्य जेवर भी बना लिए थे। अब इस भयंकर त्रासदी के बाद जहां पूरा परिवार ही बेघर हो गया है वहीं कलावती भावना को खोने का दुख सहन नहीं कर पा रही है। उनका रो-रोकर बुरा हाल है। वह तो बेटी का शव देखकर ही बेहोश हो गई। आस-पास के ग्रामीण कलावती को सांत्वना तो दे रहे हैं यह दुःख इतना बड़ा है जिसने पूरे परिवार को तोड़ कर रख दिया।




लेख शेयर करे

More in अल्मोड़ा

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top