Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day

उत्तराखण्ड

देहरादून

उत्तराखण्ड में कोरोना का एक और पॉजीटिव केस मिला.. आंकड़ा बढ़कर हुआ पाँच

Uttarakhand: कोरोना का एक और मरीज आया सामने, पोजिटिव आई जांच रिपोर्ट..

इस वक्त की सबसे बड़ी खबर राजधानी देहरादून से आ रही है जहां एक और कोराना संदिग्ध मरीज की जांच रिपोर्ट पोजिटिव आई है। बताया गया है कि स्पेन से लोटा एक और व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। सबसे बड़ी चिंता की बात तो यह है कि यह व्यक्ति किसी मैदानी जिले का रहने वाला नहीं है बल्कि एक पहाड़ी जनपद पहाड़ी जनपद पौड़ी के दुगड्डा ब्लॉक से है। बता दें कि राज्य में इससे पहले चार अन्य लोगों में कोरोना की पुष्टि हो चुकी है। इनमें तीन दून स्थित इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वन अकादमी के प्रशिक्षु आइएफएस और एक अमेरिकी नागरिक है। इन सभी का दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल में उपचार चल रहा है। सबसे बड़ी खतरे की बात तो यह है कि कोरोना वायरस से संक्रमित यह व्यक्ति स्पेन से लौटने के बाद अपने घर भी जा चुका है। अब सरकार उन सभी लोगों की सूची बना रही है जो युवक के स्पेन से कोटद्वार-दुगड्डा पहुंचने तक और दुगड्डा में उसके संपर्क में आए हैं। इस ताजा मामले के साथ ही राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या पांच हो गई है।


यह भी पढ़ें:- उत्तराखण्ड के एक विधायक ऐसे भी.. कोरोना के खिलाफ जंग को दिया अपने एक माह का वेतन..

संक्रमित युवक नौकरी की तलाश में गया था स्पेन:- प्राप्त जानकारी के अनुसार कोरोना वायरस से संक्रमित ये युवक एक शेफ है और वह नौकरी की तलाश में स्पेन गया था। लेकिन स्पेन में तेजी से फैलते कोरोना वायरस को देखते हुए वह वापस भारत आ गया था। बताया गया है कि वह वह 14 मार्च को स्पेन से दिल्ली लौटा था। जहां दिल्ली एयरपोर्ट पर उसका मेडिकल चेकअप भी किया गया, जिसमें उसका स्वास्थ्य सामान्य मिला। उसके बाद वह एक दिन दिल्ली के एक होटल में रूका और फिर वहां से 16 मार्च को वह ट्रेन से कोटद्वार और फिर वहां से दुगड्डा पहुंचा। सर्दी-जुकाम की शिकायत पर 17 मार्च को उसने पीएचसी दुगड्डा में खुद को दिखाया जिस पर चिकित्सकों ने उसकी ट्रैवल हिस्ट्री और प्रारंभिक लक्षण देखकर उसे तुरंत कण्वाश्रम में जीएमवीएन गेस्ट हाउस में क्वारंटाइन कर दिया। बुधवार को पोजिटिव रिपोर्ट आने के बाद अब उसे ऋषिकेश एम्स में शिफ्ट किया जा रहा है और उसके परिवार के चारो सदस्यों मां, पिता, दो ताऊ और बहन सहित उनके घर में काम करने वाली महिला एवं उस महिला के उन सभी आठ-दस अन्य घरों के सदस्यों को भी कण्वाश्रम स्थित क्वारंटाइन सेंटर में लाया जा रहा है, जिनमें वह महिला काम करती है।


यह भी पढ़ें- उत्तराखण्ड: सिखाया गया बेवजह बाहर घूमने वालों को सबक, कहीं हुआ बल प्रयोग तो कहीं थमाया पोस्टर

लेख शेयर करे

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top