Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
alt="uttarakhand two people died due to electric current"

उत्तराखण्ड

बागेश्वर

उत्तराखण्ड: पहाड़ में दुखद घटना करंट की चपेट में आने से दो की मौत, लाइनमैन भी झुलसा

uttarakhand: दुखद घटना में दो ग्रामीणों की मौके पर ही मौत, परिवार में मचा कोहराम

राज्य के बागेश्वर जिले से एक दुखद घटना की खबर आ रही है जहां बिजली की लाइन में खराबी दूर करते समय करंट की चपेट में आने से दो स्थानीय लोगों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि लाइनमैन समेत तीन लोग बुरी तरह झुलस गए। गम्भीर रूप से झुलसे तीनों लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनमें से एक की नाजुक हालत को देखते हुए उसे हल्द्वानी रेफर कर दिया गया है। रेफर किया गया व्यक्ति का शरीर 75% झुलसा था। बताया गया है कि दोनों मृतक ग्रामीण लाइन की मरम्मत में विभाग का सहयोग कर रहे थे। दुखद घटना से जहां मृतकों के घरों में कोहराम मचा हुआ है वहीं पूरे क्षेत्र में भी शोक की लहर है। हादसे की खबर से ही परिजनों की आंखों से आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। मामले में मृतक ग्रामीणों के परिजनों की ओर से कपकोट थाने में जेई के खिलाफ तहरीर दी गई है, पुलिस विभाग की टीम मामले की जांच कर रही है। दोनों ही मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया है।


यह भी पढ़ें- अल्मोड़ा: चौकी इंचार्ज ऐसे भी जन्मदिन अवसर पर गांव में राशन और मास्क वितरित कर बांटी खुशियां

तार बदलने के दौरान हुआ हादसा, लाइनमैन समेत तीन लोग बुरी तरह झुलसे:-

प्राप्त जानकारी के अनुसार राज्य के बागेश्वर जिले के कपकोट तहसील के ग्राम हरसीला और कफौली के बीच 11 केवी का बिजली का तार टूटने से कफौली क्षेत्र में पिछले पांच दिनों से बिजली आपूर्ति बाधित थी। कफौली के ग्रामीणों की ओर से बार-बार मिल रही शिकायतों के पांच दिन बाद बीते गुरुवार को यूपीसीएल के जेई राजेंद्र शाही, लाइनमैन राजेंद्र सिंह को लेकर मौके पर पहुंचे। बताया गया है कि इस दौरान कुछ ग्रामीण भी सहायता करने को मौके पर आ गए।‌ प्रत्यक्षदर्शियो के अनुसार पोल पर तार बदलने के दौरान तार पास से गुजर रही 33 केवी की लाइन को छू गई और वहां मौजूद पांच लोगों को करंट ने अपनी चपेट में ले लिया। जिससे कफौली गांव निवासी नवीन पांडे पुत्र ख्याली दत्त पांडे और गोपाल दत्त जोशी पुत्र खीमानंद जोशी की मौके पर ही मौत हो गई जबकि कफौली निवासी भुवन सिंह कोरंगा पुत्र नैन सिंह एवं दिनेश चंद्र पांडे पुत्र नरोत्तम पांडे तथा गोलना निवासी लाइनमैन राजेंद्र सिंह पुत्र विशन सिंह निवासी गम्भीर रूप से झुलस गए। सभी को स्थानीय लोगों द्वारा जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां से भुवन सिंह कोरंगा को प्राथमिक उपचार के बाद हल्द्वानी रेफर कर दिया गया है।


यह भी पढ़ें– उत्तराखण्ड: घने जंगल में दो वर्ष तक गुफा में जीवन बिताने के बाद अब मिला महिला को आशियाना

लेख शेयर करे

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top