Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
alt="Uttarakhand heavy rain in pauri garhwal car flow in water"

उत्तराखण्ड

पौड़ी गढ़वाल

उत्तराखण्ड : पहाड़ में बारिश का ऐसा कहर पानी के तेज बहाव में कार बही चालक की मौत

Uttarakhand Heavy Rain: लापता लोगों ने हादसे से कुछ समय पहले कार चालक से मांगी थी लिफ्ट, राहत एवं बचाव कार्य जारी..

राज्य में इन दिनों मौसम कहर बरपा रहा है। पहाड़ से लेकर मैदान तक सभी जगह मौसम का यह कहर देखने को मिल रहा है। भारी बारिश (Uttarakhand Heavy Rain) से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। पूरे राज्य से तबाही की तस्वीरें सामने आ रही है। इसी बीच राज्य के पौड़ी गढ़वाल जिले से बड़ी खबर आ रही है जहां कोटद्वार क्षेेत्र में एक कार के बरसाती नाले में बह जाने से कार चालक की मौत हो गई जबकि कार में सवार दो अन्य लोग अभी भी लापता हैं। घटना की सूचना मिलने पर एसडीआरएफ और पुलिस प्रशासन की टीम ने घटनास्थल पर पहुंचकर राहत एवं बचाव कार्य शुरू कर दिया है। लापता लोगों की तलाश जारी है। बताया गया है कार दिल्ली की थी जो यात्रियों को दुगड्डा पहुंचाकर वापस लौट रही थी। लापता यात्रियों ने हादसे से कुछ ही समय पहले कार चालक से लिफ्ट मांगी थी। हादसे की खबर से स्थानीय लोगों में दहशत का माहौल है।
यह भी पढ़ें- हरिद्वार में हर की पौड़ी के समीप गिरी आकाशीय बिजली दीवारें ध्वस्त, हुआ खासा नुकसान

सवारियों को दुगड्डा छोड़कर वापस लौट रहा था चालक, तभी हो गया यह हादसा:-  प्राप्त जानकारी के अनुसार राज्य के पौड़ी गढ़वाल जिले के कोटद्वार क्षेत्र में मंगलवार को जमकर मेघ बरसे। क्षेत्र में कहीं-कहीं अतिवृष्टि भी देखने को मिली। जिससे नदी नाले उफान पर आ ग‌ए। नदी-नालों का बहाव अचानक तेज हो जाने के कारण कोटद्वार दुगड्डा हाईवे पर भारी मात्रा में मलबा भी आ गया जिसकी चपेट में आकर मौके से गुजर रही एक कार बरसाती नाले में बह ग‌ई। जिससे वाहन चालक गंभीर रूप से घायल हो गया और कार में सवार दो स्थानीय लोग भी लापता हो गए। हादसे की सूचना पर एसडीआरएफ और पुलिस प्रशासन की टीम ने तुरंत रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर घायल चालक को अस्पताल में भर्ती कराया जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतक चालक की पहचान चंपावत जिले के खेती काकड़ी गांव निवासी भूपेंद्र सिंह पुत्र इंद्र सिंह के रूप में हुई है। बताया गया है कि वह दिल्ली से सवारियों को छोड़ने दुगड्डा आया था। सवारियों को घर पहुंचाकर वह वापस दिल्ली को लौट रहा था। तभी यह हादसा हो गया। घटनास्थल पर लोनिवि द्वारा दो जेसीबी भी लगाई गई है जो सड़क पर आया मलबा साफ कर रही है। घटनास्थल के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लगी हुई है।

यह भी पढ़ें- पिथौरागढ़ : माँ के हाथ से बच्चा छूट तेज नाले में बहा, माँ बोली बच्चे को मिला जीवनदान

लेख शेयर करे

Comments

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

VIDEO

Advertisement
To Top