जोहार महोत्सव हल्द्वानी में अपने गीत से छा गया नन्हा दक्ष कार्की, अपना स्नेह और आशीर्वाद दे




नैनीताल जिले के सबसे बड़े शहर और कुमाऊं का प्रवेश द्वार कहे जाने वाले हल्द्वानी में शनिवार को दो दिवसीय नौवां जोहार महोत्सव शुरू हो गया है। कल 10 नवम्बर से प्रस्तावित होने वाले जोहार महोत्सव के लिए जोहार सांस्कृतिक एवं वेलफेयर सोसायटी ने पूरी तैयारिओं के साथ जोहर महोत्सव का भव्य आयोजन किया। जोहारी शौका समाज का नौवां जोहार महोत्सव 10 नवंबर को हल्द्वानी के एमबी इंटर कॉलेज परिसर में उत्तराखंड के पारंपरिक मांगल गीत ‘दैंणा हुंय्या, खोलि का गणेशा’ से उदघाटन हुआ। बता दे की दोनहरिया स्थित जोहार मिलन केंद्र में जगह की कमी की वजह से इस बार एमबी इंटर कॉलेज मैदान में महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है।




यह भी पढ़े-दक्ष कार्की छा गया अपने गीत से उत्तराखण्ड के बड़े मंचो पर, एसएसपी द्वारा हुआ सम्मानित
कल के जोहर महोत्सव में जहाँ विभिन्न रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए वही जोहार महोत्सव में छितकु हिवाल प्रोडेक्शन के निर्माता देबू पांगती के द्वारा अमर लोक गायक स्व० प्रवेन्द्र सिंह कार्की (पप्पू कार्की ) के लिए अपनी अंतर आत्मा से लिखे चंद पंक्तियों को गाकर उनको श्रदांजलि दी गई। देबू पांगती के उन पंक्तियों में बहुत ही ह्रदय स्पर्शी भाव छुपे हुए थे, और उनके शब्दों में स्व. पप्पू कार्की के साथ की गहरी यादे भी झलकने लगी थी। इसके साथ ही इस महोत्सव को सबसे खाश बनाया हुनरमंद  दक्ष कार्की ने जो की अब संगीत के क्षेत्र में लोगो के दिलो की धड़कन बन चूका है। दक्ष कार्की ने कुछ दिन पहले ही अपने पिता की विरासत को संभालते हुए उनके यूट्यूब चैनल को सिल्वर बटन भी दिलवाया, जो की नन्हे दक्ष कार्की के लिए इतनी छोटी उम्र में बहुत बड़ी उपलब्धि है।दक्ष कार्की के गीत को सुन ने के लिए वीडियो को पूरा देखे। 




यह भी पढ़े-दक्ष कार्की यूट्यूब पर आते ही छा गया अपनी मार्मिक और जादुई आवाज से

दक्ष कार्की ने अपने पिता का एक लोकप्रिय गीत “सुनले दगडिया बात सुनी जा” भी प्रस्तुत किया ,बताते चले की दक्ष कार्की ने हाल ही मैं अपने स्वरों में रिकॉर्ड किये गए इस गीत से 3 मिलियन दर्शकों को अपनी आवाज का मुरीद बना दिया था। जिसमे म्यूजिक दिया था , नीतेश बिष्ट अमन ने। इसके साथ ही उत्तराखंड के उभरते हुए कलाकार संदीप सोनू जो पप्पू कार्की के बहुत करीबी रहे और उनका अनुकरण करते है। महोत्सव में उन्होंने उनकी नियोली गाकर एक बार फिर सबकी यादे ताजा करदी। स्व. पप्पू कार्की जब न्योली गाते थे , तब मानो ऐसा प्रतीत होता था पूरा मुन्स्यार उनके उस न्योली में नजर आ रहा हो इतनी गहराईयो में जाकर गाते थे। आज भी उनकी वो अमर आवाज सभी के दिलो में गूंज उठती है जब भी उनका नाम लिया जाता है।





अगर आप स्व. पप्पू कार्की के यूट्यूब चैनल से नहीं जुड़े है तो जरूर उनके चैनल से जुड़ कर नन्हे दक्ष कार्की को अपना पूरा सहयोग प्रदान करे।
 पप्पू कार्की चैनल पर क्लिक करे⇓ 

पप्पू कार्की चैनल 

लेख शेयर करे

Comments

Devbhoomidarshan Desk

Devbhoomi Darshan site is an online news portal of Uttarakhand through which all the important events of Uttarakhand are exposed. The main objective of Devbhoomi Darshan is to highlight various problems & issues of Uttarakhand. spreading Government welfare schemes & government initiatives with people of Uttarakhand.