Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Uttarakhand news: BSC student aarti arya commits suicide case in Nainital district of Uttarakhand.

उत्तराखण्ड

नैनीताल

उत्तराखंड: बीएससी की छात्रा ने खुदकुशी कर दी जान, परिजनों में मचा कोहराम

Uttarakhand: नैनीताल में बीएससी की छात्रा ने उठाया ‌आत्मघाती कदम (Nainital Suicide Case), मौत की खबर से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल..

इक्कीसवीं सदी के इस नए दौर में धीरे-धीरे समय बदलता जा रहा है। जहां एक ओर हम डिजिटल युग में प्रवेश कर रहे हैं वहीं छोटी-छोटी बातों पर तनाव में आने के कारण बच्चों के गलत कदम उठाने की घटनाएं भी धीरे-धीरे बढ़ते जा रहे हैं। उत्तराखंड (Uttarakhand) भी इससे अछूता नहीं है। आए दिन बच्चों के आत्मघाती कदम उठाने के मामले हमारे सामने आते रहते हैं। बच्चों के गलत कदम उठाने का खामियाजा क‌ई बार माता-पिता को जिंदगी भर भुगतना पड़ता है। अब तक सामने आए शोधों के अनुसार बच्चों के आत्मघाती कदम उठाने का सबसे बड़ा कारण परीक्षा परिणामों में असफल होना रहा है।‌ आज एक बार फिर राज्य के नैनीताल जिले से एक ऐसी ही दुखद खबर सामने आ रही है जहां एक बीएससी की छात्रा ने अज्ञात कारणों के चलते फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। (Nainital Suicide Case) बताया गया है कि मृतक छात्रा इस बार के परीक्षा परिणामों में एक विषय में बैक आने से तनाव में थी। परिजनों का अनुमान है कि इसी कारण उसने यह आत्मघाती कदम उठाया होगा।
यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: नवीं कक्षा की छात्रा ने फांसी लगाकर दी जान, परिजनों में मचा कोहराम

घटनास्थल से मिला पुलिस को सुसाइड नोट, दादा से माफी मांगते हुए लिखा था मेरी मौत का कोई जिम्मेदार नहीं

प्राप्त जानकारी के अनुसार मूल रूप से राज्य के नैनीताल जिले के बिंदुखत्ता क्षेत्र के संजयनगर तृतीय निवासी आरती आर्या हल्दूचौड़ डिग्री कॉलेज में बीएससी तृतीय वर्ष की छात्रा थी। बता दें कि पांच भाई-बहनों में सबसे बड़ी आरती एक बहन के साथ दादा दादी के पास रहती थी जबकि उसके माता-पिता अन्य भाई-बहनों के साथ पास में ही रहते हैं। परिजनों के मुताबिक आरती इस बार के परीक्षा परिणामों में एक विषय में बैक आने से तनाव में थी। इसी के कारण उसने पंखे से लटक कर जान दे दी। देर रात जब आरती की छोटी बहन ने जब उसे पंखे से लटके देखा तो उसके पांवों तले की जमीन खिसक गई। उसने तुरंत इसकी सूचना अपने दादा को दी। उन्होंने जब आरती को पंखे से नीचे उतारा लेकिन तब तक काफी देर हो गई। आरती दम तोड़ चुकी थी। हादसे की सूचना मिलने पर घटनास्थल पर पहुंची पुलिस को घर से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ। जिस पर आरती ने अपने दादा से माफी मांगते हुए लिखा था कि उसकी मौत का कोई जिम्मेदार नहीं है। आरती के इस आत्मघाती कदम से उसके परिवार में कोहराम मचा हुआ है, परिजनों की आंखों से आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे हैं।

यह भी पढ़ें- उतराखण्ड: पहाड़ में दुःखद घटना मां ने बेटी को डांटा तो बेटी ने उफनती नदी में लगाई छलांग, लापता

लेख शेयर करे

Comments

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

VIDEO

Advertisement
To Top