Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day

उत्तराखण्ड

हल्द्वानी

बधाई : उत्तराखण्ड के विख्यात लोकगायक स्वर्गीय पप्पू कार्की के यूट्यूब चैनल को मिला सिल्वर बटन




हर यूटूबर की एक दिली ख्वाहिश होती है की उसके यूट्यूब चैनल को सिल्वर बटन मिले लेकिन यह इतना आसान नहीं है। इसके लिए कड़ी मेहनत और लोगो का विश्वाश चाहिए। यूट्यूब के लिए सिल्वर बटन मिलना ओलिंपिक में मैडल जितने से कम नहीं है और यह ओलिंपिक मैडल रूपी “यूट्यूब सिल्वर बटन” मिला है, उत्तराखण्ड के विख्यात लोकगायक स्वर्गीय पप्पू कार्की के यूट्यूब चैनल ” पप्पू कार्की ” को जिन्होंने उत्तराखण्ड के लोकगीतों को एक नयी ऊंचाई पर पहुंचाया था। देवभूमि दर्शन की ओर से पीके एंटरटेनमेंट ग्रुप के सभी सदस्यों , कविता कार्की एवं नन्हे दक्ष कार्की को बहुत बहुत बधाई।





यह भी पढ़े-दक्ष कार्की छा गया अपने गीत से उत्तराखण्ड के बड़े मंचो पर, एसएसपी द्वारा हुआ सम्मानित
बता दे की स्वर्गीय पप्पू कार्की के यूट्यूब चैनल ” पप्पू कार्की” को सिल्वर बटन मिलने से पीके एंटरटेनमेंट ग्रुप के सभी सदस्य और विशेष कर पप्पू कार्की की पत्नी कविता कार्की बहुत खुश है और सोशल मीडिया के माध्यम से उन्होंने अपनी खुशी जाहिर की है। इसके साथ ही उत्तराखण्ड के उभरते हुए स्टार विक्रम रोबो ने भी इसकी खुशी अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर जाहिर की है। पप्पू कार्की के अमर गीतों को जब उनके ही सुपुत्र दक्ष कार्की ने अपनी आवाज दी और उनके लोकप्रिय गीत ““सुन ले दगड़िया बात सुनी जा” को अपने पिता को समर्पित किया। गीत उनके यूट्यूब चैनल से रिलीज होते ही कुछ ही घंटो में लाखो व्यूज ले चूका था। अब कह सकते है नन्हा दक्ष कार्की अपने पिता के सपनो पर खरा उतर चूका है। आखिर हुनरमंद दक्ष कार्की ने अपने पिता के पदचिन्हो पर चलकर अपनी एक नयी पहचान लोगो के बिच तो बनाई ही साथ में अपने पिता के गीत को भी एक नया आयाम देकर सिल्वर बटन हासिल किया।




यह भी पढ़े लोकगायक स्व. पप्पू कार्की के बेटे दक्ष कार्की अपने पिता के गीतों को दे रहे है अपनी आवाज
किस स्थिति में मिलता है सिल्वर बटन – यूट्यूब दवारा यह रिवॉर्ड तब मिलता है जब आपका यूट्यूब चैनल 100k  से ऊपर सब्सक्राइबर ले चूका हो और बिना किसी चीटिंग के काम करता हो क्योकि यूट्ब टीम /कम्युनिटी इसके लिए आप पर लम्बे समय से नजर रखती है और देखती है की आपका चैनल लोगो के बिच में कितना पॉपुलर है। जब आपके यूट्यूब पर 1 लाख से ज्यादा सब्सक्राइबर हो जाते है तो यूट्यूब टीम आपके चैनल पर एक हफ्ते तक नज़र रखती है और फिर अपना फैसला लेती है कि इसको यूट्यूब सिल्वर बटन दिया जाये या नहीं।




लेख शेयर करे

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top