Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Uttarakhand news: Five teenagers died due to drowning in the saryu river along with the bride brother in Pithoragarh.

उत्तराखण्ड

पिथौरागढ़

उत्तराखण्ड: पहाड़ में दुल्हन को विदा करने ग‌ए भाई के साथ ही पांच किशोरों की नदी में डूबने से मौत

Uttarakhand: मातम में बदली शादी की खुशियां, दुल्हन (bride) को छोड़ने ग‌ए उसके सगे और चचेरे भाई के साथ ही पांच किशोरों की नदी में डूबने से मौत

राज्य (Uttarakhand) के पिथौरागढ़ जिले से दुखद खबर सामने आ रही है जहां सरयू नदी में नहाने गए पांच किशोरों की मौके पर ही मौत हो गई। बताया गया है कि मृतकों में दुल्हन (bride) का सगा और चचेरा भाई भी शामिल हैं। जिससे जहां एक ओर शादी की खुशियां मातम में तब्दील हो गई है वहीं मृतकों के परिवारों में कोहराम मचा हुआ है तथा पूरे गांव में मातम पसरा हुआ है। हादसा उस वक्त हुआ जब दुल्हन के सगे एवं चचेरे भाई के साथ ही तीन अन्य किशोर परम्पराओं के अनुसार दुल्हन को विदा करने उसके ससुराल ग‌ए हुए थे। दुल्हन को ससुराल पहुंचाने के बाद यह पांचों किशोर उसके ससुराल से आधा किलोमीटर दूर बहने वाली सरयू नदी में नहाने चले गए और इसी दौरान यह हादसा हो गया। सभी मृतक किशोरों‌ की उम्र 15-17 वर्ष के बीच बताई गई है। हादसे की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस विभाग की टीम ने मृतक पांचों किशोरों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
यह भी पढ़ें- उत्तराखण्ड: संदिग्ध हालात में हुई किरन की मौत के मामले में बड़ा खुलासा, मुंह दबाकर की गई हत्या

प्राप्त जानकारी के अनुसार बीते रोज पिथौरागढ़ जिले के सेराघाट क्षेत्र के रामपुर गांव से एक बारात गणाई गंगोली क्षेत्र के धौलियाइजर कूना गांव ग‌ई थी। बारात धूमधाम से संपन्न हुई। दुल्हन के घर से बारात की विदाई होने पर परम्पराओं के अनुसार दुल्हन को ससुराल तक विदा करने उसके भाई भी जाते हैं। इसलिए दुल्हन के सगे तथा चचेरे भाई के साथ ही गांव के ही तीन अन्य किशोर दुल्हन को ससुराल तक छोडऩे गए थे। जिनमें रवींद्र कुमार पुत्र गोकुल राम, साहिल कुमार पुत्र पूरन राम, मोहित कुमार पुत्र अशोक कुमार, राजेश कुमार पुत्र खीम राम एवं पीयूष कुमार पुत्र कृष्ण कुमार शामिल हैं। बताया गया है कि बुधवार सुबह ये पांचों किशोर दुल्हन के ससुराल से आधा किमी दूर बहने वाली सरयू नदी में नहाने चले गए। इसी दौरान पांचों किशोर नदी के तेज बहाव में बहकर डूबने लगे। आसपास के ग्रामीणों ने उन्हें बचाने का प्रयास किया परन्तु वह अपने इस प्रयास में सफल नहीं हो पाए। ग्रामीणों की सूचना मिलने पर घटनास्थल पर पहुंची पुलिस विभाग की टीम ने रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर सभी को नदी से बाहर निकाला लेकिन तब तक पांचों किशोरों की मौत हो चुकी थी। घटना से जहां वर-वधू पक्ष के परिवारों में कोहराम मचा हुआ है वहीं दोनों गांवों में भी मातम पसरा हुआ है।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: कमल पहाड़ से नासिक गया था नौकरी करने नदी में डूबने से मौत परिजनों में मचा कोहराम

लेख शेयर करे

Comments

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

VIDEO

Advertisement
To Top