Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Uttarakhand: priyanka Rautela of bageshwar Clear NEET exam

उत्तराखण्ड

बागेश्वर

उत्तराखंड: द्यांगण गांव की प्रियंका ने नीट उत्तीर्ण कर डॉक्टर बनने का सपना किया साकार

बागेश्वर(Bageshwar):  कैंसर से भाई की गई जान तो प्रियंका ने नीट उत्तीर्ण(NEET Exam) कर डॉक्टर बनने के सपने को कर दिखाया साकार

अगर इंसान के अंदर कुछ करने का जज्बा कायम हो जाए तो वह अपनी मंजिल तक हर स्थिति में  पहुंच जाता है, जी हां अपने बुलंद होसलो और जज्बे से ऐसा ही कुछ कर दिखाया है ,बागेश्वर (Bageshwar) की ग्राम द्यांगण निवासी प्रियंका मेहता ने। दरअसल कैंसर से हुई भाई की मौत ने प्रियंका को ऐसा झकझोरा की उन्होंने डॉक्टर बनने की ठान ली और कड़ी मेहनत करने लगी, आज उन्हीं की मेहनत का सकारात्मक परिणाम है कि उन्होंने नीट की परीक्षा(NEET Exam) 87•77 अंकों के साथ उत्तीर्ण की तथा नीट मे ऑल इंडिया रैंकिंग 7767 प्राप्त की। बता दे कि प्रियंका ग्राम द्यांगण निवासी पूर्व सैनिक कुंदन सिंह मेहता की पुत्री है, वह पढ़ाई में हमेशा अव्वल रही तथा मेधावी बच्चों में हमेशा उनका नाम शामिल रहा , प्रियंका की इस सफलता से परिवार ही नहीं बल्कि पूरे क्षेत्र के लोगों में खुशी का माहौल है।

यह भी पढ़े –मेडिकल NEET के नतीजे घोषित, उत्तराखंड से इन होनहारों ने लहराया परचम
प्राप्त जानकारी के अनुसार बागेश्वर के द्यांगण गांव निवासी प्रियंका के बड़े भाई की वर्ष 2019 में कैंसर से असामयिक हुई मृत्यु ने बहन को ऐसा झकझोरा की उन्होंने डॉक्टर बनने का संकल्प लें लिया तथा उसी के अनुसार मेहनत करने लगी और उसमें सफल भी हुई, बताते चलें कि प्रियंका की पांचवी तक की पढ़ाई बागेश्वर के हिमालयन सेंटर विद्यालय से हुई उसके उपरांत दसवीं की परीक्षा नैनीताल के सेंट मैरी स्कूल और 12वीं की परीक्षा निर्मला कान्वेंट स्कूल हल्द्वानी से पास की है। 12वीं की परीक्षा में मेधावी प्रियंका को 91% अंक हासिल किये थे, लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था प्रियंका के बड़े भाई सूरज मेहता जो कि आईआईटी रुड़की से इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा था, उनका कैंसर के चलते 2019 में निधन हो गया, भाई की इस असामयिक मृत्यु से प्रियंका को ऐसा गहरा सदमा लगा की उसने डॉक्टर बनकर लोगों का जीवन बचाने की ठान ली और नीट की तैयारी शुरू कर दी। उसने पहले ही प्रयास में नीट पास कर ली ,प्रियंका भविष्य मे न्यूरो सर्जन बनना चाहती हैं। प्रियंका की इस सफलता से पूरे क्षेत्र मे ख़ुशी का माहौल है तथा उनके घर मे भी बधाई देने वालों का ताता लगा हुआ है।

लेख शेयर करे

Comments

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

VIDEO

Advertisement
To Top