Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Uttarakhand : NEET Result Out, exam qualified student from uttarakhand

उत्तराखण्ड

देहरादून

मेडिकल NEET के नतीजे घोषित, उत्तराखंड से इन होनहारों ने लहराया परचम

उत्तराखंड(Uttarakhand) से मेडिकल नीट परीक्षा(NEET Result) में, इन होनहार बच्चो ने पाई सफलता, देहरादून से सबसे अधिक अंक पाए उज्जवल चौधरी ने

आज देवभूमि उत्तराखण्ड(Uttarakhand) के युवा हर क्षेत्र में अग्रसर हैं चाहे मनोरंजन का क्षेत्र हो या शिक्षा का क्षेत्र, वे देश ही नहीं विदेशों में भी उत्तराखंड का नाम रोशन कर रहे हैं, बताते चलें कि मेडिकल की प्रवेश परीक्षा नीट(NEET Result) यूजी के नतीजे जारी हो चुके हैं, जिसमे उत्तराखंड से सर्वोत्तम अंक देहरादून के उज्जवल चौधरी ने 720 में से 680 अंक प्राप्त करें, बता दें कि नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने पूर्व निर्धारित शेड्यूल के तहत शुक्रवार को नीट के नतीजे जारी कर दिए थे, लेकिन बार-बार वेबसाइट हैंग हो जाने के कारण कई छात्रों के रिजल्ट खुल नहीं पाए, देर रात तक वेबसाइट अटक अटक के चलनी शुरू हुई, उज्जवल ने 10 सीजीपीए के साथ 10वीं की परीक्षा तथा गत वर्ष 96•4 अंकों के साथ 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की, उज्ज्वल चौधरी बताते हैं कि एनसीईआरटी से तैयारी करना इस प्रवेश परीक्षा में सबसे बेहतर है। उन्होंने बायोलॉजी और केमिस्ट्री की पूरी तैयारी एनसीईआरटी से की तथा फिजिक्स को भी नियमित पढ़ते रहें। उज्जवल ने दूसरी बार नीट की परीक्षा देकर उसमें सफलता प्राप्त की, उज्जवल ने कोरोना लॉकडाउन के समय का बेहतर इस्तेमाल किया जिसका नतीजा मिलने के बाद वह बेहद उत्साहित है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार को नीट का परिणाम घोषित होने के बाद सभी छात्र अपने रिजल्ट को देखने के लिए उत्साहित थे ,लेकिन वेबसाइट बार-बार हैंग हो जाने से दिक्कत का सामना भी उठाना पड़ा, बता दें कि उत्तराखंड के उज्जवल ने राज्य से सर्वोच्च अंक प्राप्त किए, वर्तमान में उज्जवल सहस्त्रधारा आईटी पार्क के निकट दून डिवाइन मे निवास करते हैं ,उनके पिता रामपाल चौधरी बिजनेसमैन तथा मां गीता चौधरी संस्कार इंटरनेशनल स्कूल में शिक्षिका है, उज्जवल ने पिछले साल भी नेट की परीक्षा दी लेकिन अच्छे अंक ना मिल पाने से फिर दोबारा जी जान से तैयारी शुरू की, उज्जवल ने बताया कि कोरोना महामारी की वजह से लॉकडाउन लग गया था, जिसकी वजह से प्रवेश परीक्षा आगे बढ़ गयी, उन्होंने इस अवसर का लाभ उठाकर अपनी तैयारी को और पुख्ता किया जिसका नतीजा सबके सामने है। वही आगे राज्य के बेटियों की बात करें तो वो भी इसमें पीछे नहीं है जी है बता दे की देहरादून के ब्रहमपुरी निवासी तमन्ना मंसूरी ने नीट में 602 अंक हासिल किए हैं। तमन्ना की सबसे बड़ी तमन्ना स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ बनने की है। तमन्ना ने बताया कि उनके पिता तस्लीम मंसूरी मोटर मैकेनिक हैं। परिवार की आर्थिक स्थिति उतनी अच्छी नहीं है लेकिन इन सभी चीजों से उभरकर उन्होंने अपने लक्ष्य को हासिल किया।

लेख शेयर करे

Comments

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

VIDEO

Advertisement
To Top