Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Uttarakhand: anugya Sengar from Mehragaon of Nainital district became Captain in Medical Force of Indian Army

उत्तराखण्ड

नैनीताल

मेहरागांव की अनुज्ञा ने बढ़ाया उत्तराखंड का मान भारतीय सेना में बनी कैप्टन

गौरवान्वित हुआ उत्तराखंड, मेहरागांव की अनुज्ञा बनी भारतीय सेना (Indian Army) की मेडिकल फोर्स (Medical Force) में कैप्टन..

बात जब भी भारतीय सेना (Indian Army) की वीरता, साहस और देशभक्ति की होती है तो देश-विदेश में उत्तराखंड का नाम बड़े गर्व के साथ लिया जाता है। ऐसा हो भी क्यों ना, देश की सेनाओं में कार्यरत देवभूमि के वाशिंदे सीमाओं पर लगातार दुश्मनों के छक्के छुड़ाकर अपनी वीरता का दंभ भरते रहते हैं। यहां तक कि सीमा पर मां भारती की रक्षा के लिए देवभूमि उत्तराखंड के वाशिंदे अपनी जान की बाजी लगाने से भी नहीं चुकते। बात युवाओं की करें तो इतिहास गवाह है कि वीरभूमि उत्तराखण्ड के युवा किस तरह सेना में जाने को लालायित रहते हैं। आज हम आपको राज्य की एक और ऐसी ही होनहार बेटी से रूबरू करा रहे हैं जो भारतीय सेना में कैप्टन बनने जा रही है। जी हां.. हम बात कर रहे हैं राज्य के नैनीताल जिले के मेेेेहरागांंव की रहने वाली डॉक्टर अनुज्ञा सेंगर की, जिनका चयन बतौर कैप्टन सेना की मेडिकल फोर्स ((Medical Force)) में हुआ है। अनुज्ञा की इस अभूतपूर्व उपलब्धि से जहां उनके परिवार में हर्षोल्लास का माहौल है वहीं पूरे क्षेत्र में भी खुशी की लहर है।
यह भी पढ़ें- उत्तराखंड के लिए गौरवशाली पल योगेंद्र डिमरी बने सेना के सेंट्रल कमांडर इन चीफ

प्राप्त जानकारी के अनुसार राज्य के नैनीताल जिले के भीमताल ब्लाक के मेहरागांव निवासी डॉक्टर अनुज्ञा सेंगर का चयन भारतीय सेना की मेडिकल फोर्स (एएमसी) में कैप्टन के पद पर हो गया है। बता दें कि इसी महीने से इस जिम्मेदारीपूर्ण पद को संभालने जा रही अनुज्ञा ने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा डीपीएस बसंत कुंज से प्राप्त की। तत्पश्चात उन्होंने श्री राममूर्ति मेडिकल कॉलेज बरेली से एमबीबीएस की डिग्री हासिल की, जहां अपनी कड़ी मेहनत के बलबूते फाइनल ईयर में उन्होंने द्वितीय रैंक हासिल की। बताते चलें कि एक सैन्य परिवार से ताल्लुक रखने वाली अनुज्ञा के दादा भी भारतीय सेना में अधिकारी रह चुके हैं। अपनी इस अभूतपूर्व उपलब्धि से समूचे उत्तराखंड को गौरवान्वित करने वाली अनुज्ञा की मां मनीषा चौहान सेंगर, दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हैं जबकि उनके पिता रविंदर सेंगर एक कंपनी में सहायक महाप्रबंधक के पद पर तैनात हैं।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: कमेड़ा गांव के अखिलेश बने भारतीय सेना में अधिकारी, IMA देहरादून से हुए पास‌आउट

लेख शेयर करे

Comments

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

VIDEO

Advertisement
To Top