Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
alt="DM Mangesh Ghildiyal work for quarantine center"

IAS DM MANGESH GHILDIYAL

उत्तराखण्ड

टिहरी गढ़वाल

टिहरी का कार्यभार संभालते ही एक्सन में आए डीएम मंगेश, टिहरी कोरोना मुक्त करने के लिए बड़ा फैसला

DM Mangesh Ghildiyal: ताकि ना करना पड़े प्रवासियों को अव्यवस्था और ग्रामीणों के विरोध का सामना, और टिहरी फिर हो कोरोना मुक्त..

आईएएस मंगेश घिल्डियाल (DM Mangesh Ghildiyal) ने एक बार फिर अपनी कार्यशैली से साबित कर दिया है कि आखिर क्यों वो जनता में इतने लोकप्रिय है। जी हां.. टिहरी गढ़वाल जिले की कमान संभालते ही जिलाधिकारी मंगेश एक्सन में आ गए हैं, जिसका असर पिछले दो महीने से जारी कोरोना से जंग में सुस्त पड़े टिहरी के प्रशासन पर भी दिख रहा है। बता दें कि बीते रविवार को टिहरी गढ़वाल में जिलाधिकारी का कार्यभार संभालने के बाद मंगेश सोमवार सुबह मुनिकीरेती पहुंचे, जहां उन्होंने होटल व्यवसायियों के साथ बैठक की और सभी से कोरोना संकट के इस दौर में मदद की आशा जाहिर करते हुए कहा कि अब प्रवासियों को टिहरी की सीमा पर स्थित मुनि की रेती में क्वारंटीन किया जाएगा, जिसके लिए आपके सहयोग की नितांत आवश्यकता है। इस दौरान बैठक में होटल व्यवसायियों ने उनकी इस बात का समर्थन करते हुए स्वेच्छा से अपने होटल प्रशासन को सौंपने की बात कही, जिससे प्रवासियों को क्वारंटीन करने के लिए सुविधाओं की कोई कमी ना रहे । बताते चलें कि टिहरी गढ़वाल जिले में अभी तक प्रवासियों को पंचायत घरों, स्कूल- कालेजों में क्वारंटीन किया जा रहा था जिससे जिले में कोरोनो संकट तेजी से बढ़ने लगा था और गांवों में भी दहशत फ़ैल गई थी।


यह भी पढ़ें- उत्तराखण्ड का कोई भी जिला नहीं रहा अब ग्रीन जोन में.. पूरा प्रदेश ही ऑरेंज जोन में हुआ तब्दील

सभी प्रवासियों को मुनि की रेती में किया जाएगा क्वारंटीन, रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही भेजा जाएगा गांव:-

प्राप्त जानकारी के अनुसार टिहरी गढ़वाल के न‌ए जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल (DM Mangesh Ghildiyal) सोमवार सुबह मुनि की रेती पहुंचे और उन्होंने गंगा रिजॉर्ट जीएमवीएन अतिथि गृह में अधिकारियों और होटल एवं आश्रम संचालकों की बैठक बुलाई। बैठक में अपनी बात रखते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि अभी तक विभिन्न प्रांतों से जितने भी प्रवासी लौट रहे हैं, उन्हें प्रशासन स्कूल, पंचायतघरों और गांव में क्वारंटाइन कर रहा है। जिस पर आपत्ति जताते हुए उन्होंने कहा कि मुनि की रेती जनपद की सीमा पर स्थित है और यहां पर्याप्त संख्या में धर्मशाला, आश्रम, लॉज, होटल और एजुकेशनल इंस्टीट्यूट भी स्थित है। इस लिए अब आने वाले जिले के सभी प्रवासियों को यही क्वारंटीन किया जाएगा और रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही घर भेजा जाएगा। इस दौरान बैठक में उपस्थित होटल मालिकों और आश्रम संचालकों ने भोजन, सैनिटाइजेशन और सफाई व्यवस्था को लेकर शंका जताई। जिस पर जिलाधिकारी ने शंका का समाधान करते हुए कहा कि कमरे की सफाई प्रवासी स्वयं करेगा तथा अन्य सभी व्यवस्थाएं प्रशासन संभालेगा, आपको इसके लिए बिल्कुल भी चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है।


यह भी पढ़ें- उत्तराखण्ड : डीएम मंगेश घिल्डियाल का हुआ तबादला साथ ही सौंपी गई बहुत बड़ी जिम्मेदारी

लेख शेयर करे

Comments

More in IAS DM MANGESH GHILDIYAL

Trending

Advertisement

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

VIDEO

Advertisement
To Top