Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Uttar Pradesh CM Yogi Adityanath laid the foundation of UP Tourist guest house in Badrinath Dham

उत्तराखण्ड

चमोली

बद्रीनाथ धाम में योगी आदित्यनाथ ने किया उत्तर प्रदेश पर्यटक आवास गृह का शिलान्यास

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi adityanath) मंगलवार को पहुंचे बद्रीनाथ धाम (Badrinath dham), किया उत्तर प्रदेश पर्यटक आवास गृह का शिलान्यास..

तीन दिवसीय उत्तराखण्ड दौरे पर आए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi adityanath) ने मंगलवार को बद्रीनाथ धाम (Badrinath dham) के दर्शन किए। इस दौरान उनके साथ प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत भी मौजूद रहे। इस दौरान दोनों मुख्यमंत्रियों ने बद्रीनाथ धाम में उत्तर प्रदेश पर्यटक आवास गृह का संयुक्त रूप से शिलान्यास किया। बता दें कि यह पर्यटक आवास गृह 4000 वर्गमीटर क्षेत्रफल में बनेगा। जिसका निर्माण लगभग ग्यारह करोड़ रुपए की लागत से उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग की ओर से कराया जाएगा। बताया गया है कि इस पर्यटक आवास गृह में 40 कमरों का निर्माण प्रस्तावित है। इस आवास गृह के निर्माण से न केवल उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड सहित देश विदेश के तीर्थयात्रियों को बद्रीनाथ धाम में ठहरने की उचित व्यवस्था मिलेगी बल्कि आवास गृह के बनने से धाम के पास ही उनके लिए उच्च स्तरीय खान-पान की व्यवस्था भी हो सकेगी। विदित हो कि वर्तमान में उत्तराखंड पर्यटन विभाग की ओर से बद्रीनाथ धाम में एक पर्यटन आवास गृह संचालित किया जा रहा है परन्तु तीर्थयात्रियों की संख्या बढ़ने पर यहां ठहरने की व्यवस्था कम पड़ जाती है। जिस कारण तीर्थयात्रियों को रात्रि विश्राम के लिए वापस जोशीमठ लौटना पड़ता है।
यह भी पढ़ें- उत्तराखंड में बनेगें दो अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट, केंद्रीय नागरिक उड्डयन सचिव की सरकार से हुई बात

जौलीग्रांट एयरपोर्ट से लखनऊ के लिए रवाना हुए मुख्यमंत्री योगी, सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने भेंट की केदारनाथ की अनुकृति:-

बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इन दिनों उत्तराखण्ड की यात्रा पर आए हुए थे। बीते रविवार को उत्तराखंड पहुंचने के बाद योगी उसी दिन प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के साथ केदारनाथ के लिए रवाना हो गए थे। जहां रात्रि प्रवास के बाद दोनों मुख्यमंत्रियों ने सोमवार सुबह पहले बाबा केदार की पूजा अर्चना की और फिर शीतकालीन कपाट बंद होने के समारोह में शामिल हुए। दोनों मुख्यमंत्री करीब आठ घंटे तक बर्फबारी के कारण केदारनाथ में ही फंसे रहे जिसके बाद सोमवार शाम को वे गौचर पहुंचे। जहां रात्रि विश्राम के बाद मंगलवार सुबह दोनों मुख्यमंत्रियों ने बद्रीनाथ धाम के दर्शन किए। इस दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि अलकनंदा नदी के किनारे बसा यह पवित्र बदरीनाथ धाम हजारों वर्षों से भारत की सनातन आस्था का केंद्र है। उन्होंने सरकार को बधाई देते हुए यह भी कहा कि उत्तराखंड में पर्यटन और श्रद्घा दोनों को सम्मान देने के लिए और पर्यटन की संभावनों को विकसित करने के लिए जो प्रयास किए जा रहे हैं, वे अतुलनीय है। बद्रीनाथ धाम में करीब 45 मिनट पूजा अर्चना करने के बाद दोनों मुख्यमंत्रियों ने चीन सीमा पर स्थित माणा गांव पहुंचकर आईटीबीपी के जवानों से मुलाकात भी की। जिसके बाद देहरादून के जौलीग्रांट एयरपोर्ट से योगी आदित्यनाथ लखनऊ के लिए रवाना हो गए। इस दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने उन्हें केदारनाथ की अनुकृति भेंट की।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड सरकार ने दी सहमति, चौखुटिया में बनेगा एयरपोर्ट और अन्य जिलो में वायुसेना रडार केंद्र

लेख शेयर करे

Comments

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

VIDEO

Advertisement
To Top