Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
alt="assam rifles soldier harshpal Singh died on the duty from Pauri garhwal uttarakhand"

उत्तराखण्ड

पौड़ी गढ़वाल

उत्तराखण्ड के लाल का मणिपुर में ड्यूटी के दौरान आकस्मिक निधन,पहाड़ में शोक की लहर

Assam rifles soldier harshpal: मणिपुर में तैनात उत्तराखण्ड के लाल का आकस्मिक निधन, परिवार में मचा कोहराम, अक्टूबर में होनी थी शादी..

देवभूमि उत्तराखंड के लिए मणिपुर से एक दुखद खबर आ रही है जहां भारतीय सेना में तैनात राज्य के वीर जवान का ड्यूटी के दौरान अकस्मात निधन हो गया। जवान के निधन का समाचार मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया। जवान बेटे के निधन की खबर से ही जहां परिजनों की आंखों से आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे हैं वहीं पूरे क्षेत्र में शोक की लहर है। बताया गया है कि मृतक जवान राज्य के पौड़ी गढ़वाल जिले के रहने वाले थे और भारतीय सेना की 39 असम राइफल्स में तैनात थे। मृतक जवान की आयु अभी मात्र 24 वर्ष थी, बीते म‌ई माह में उनकी शादी तय हुई थी परंतु लाकडाउन के कारण वह घर नहीं आ सके जिस कारण परिजनों ने उनकी शादी की तारीख आगामी अक्टूबर माह में तय की थी।
यह भी पढ़ें- उत्तराखण्ड : बेटे की शहादत पर पिता बोले ” तेरी शहादत पर गर्व है छोटे बेटे को भी भेजूंगा सेना में”

परिवार का इकलौता बेटा था मृतक जवान, निधन की खबर से थम नहीं रहे हैं माता-पिता की आंखों से आंसू:- प्राप्त जानकारी के अनुसार मूल रूप से राज्य के पौड़ी गढ़वाल जिले के पोखड़ा तहसील के भैंसोड़ा गांव निवासी हर्षपाल सिंह (Assam rifles soldier harshpal) पुत्र बलवंत सिंह भारतीय सेना की 39 असम राइफल में राइफलमैन थे। वर्तमान में उनकी तैनाती मणिपुर में थी। बताया गया है कि बीती रात उनका अकस्मात निधन हो गया। सेना के अधिकारियों द्वारा मृतक के परिजनों को राइफलमैन के निधन का समाचार आज सुबह प्राप्त हुआ। जवान बेटे के निधन का समाचार मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। हर्षपाल के माता-पिता की आंखों से जहां आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे हैं वहीं अन्य परिजनों का भी रो-रोकर बुरा हाल है। मृतक जवान हर्षपाल अपने परिवार के इकलौते पुत्र थे। उनकी चारों बहनों की शादी होने के बाद परिजनों ने उनकी शादी का सपना देखा था। बीते म‌ई माह में उनकी शादी तय हुई थी लेकिन लाकडाउन के कारण उन्हें छुट्टियां नहीं मिल पाई। अभी तक मृतक जवान के निधन का कोई भी कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है। सेना के अधिकारियों का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही जवान के आकस्मिक निधन की असली वजह पता चल पाएगी।

यह भी पढ़ें- अल्मोड़ा: दिनेश का पिता को अंतिम फोन ” बाबू मैं ठीक छूं तुम आपू ध्यान धरिया” बोर्डर मैं तनाव है

लेख शेयर करे

Comments

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

VIDEO

Advertisement
To Top