Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Badri-Kedar Mandir Committee chairman Mohan Thapliyal died in a road accident in chamoli

UTTARAKHAND ROAD ACCIDENT

उत्तराखण्ड

चमोली

उत्तराखंड: बदरी -केदार मंदिर समिति के पूर्व अध्यक्ष मोहन थपलियाल की सड़क हादसे में मौत

पहाड़ में दर्दनाक सड़क हादसा (Road Accident), अलकनंदा नदी में समाई भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल (Mohan Thapliyal) की कार, मौके पर ही थपलियाल सहित दो लोगों की मौत..

रविवार का दिन समूचे उत्तराखण्ड के लिए काला दिन साबित हुआ, दिन कि शुरुआत रूड़की की तहसीलदार सहित तीन लोगों की मौत की दुखद खबर के साथ हुई तो शाम होते-होते राज्य के चमोली जिले से एक और दर्दनाक सड़क हादसे की खबर आ रही है जहां बद्रीनाथ हाइवे पर एक कार के अलकनंदा नदी में समा जाने से दो लोगों की मौत हो गई। बताया गया है कि दुर्घटनाग्रस्त कार श्री बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के पूर्व अध्यक्ष व भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल की थी। हादसे की सूचना पर घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने एक मृतक के शव को रेस्क्यू कर नदी से बाहर निकाल लिया है जबकि एक अन्य व्यक्ति का शव अभी भी नदी के पास चट्टान में फंसा हुआ है। अंधेरा होने के कारण पुलिस ने रेस्क्यू ऑपरेशन को रोक दिया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अब सोमवार सुबह रेस्क्यू कर शव को निकाला जाएगा। शव की जेब से मिले आधार कार्ड के आधार पर मृतक की पहचान चमोली भाजपा के ओबीसी मोर्चे के जिलाध्यक्ष कुलदीप चौहान के रूप में हुई है। हादसे की खबर से भाजपा में शोक की लहर है।
यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: पहाड़ से दिल्ली होटल में काम करने गए युवक की करंट लगने से मौत, होटल स्वामी पर आरोप

अंधेरा होने के कारण पुलिस ने बंद किया रेस्क्यू ऑपरेशन, अभी भी नदी किनारे चट्टान पर पड़ा है मृतक थपलियाल का शव:-

प्राप्त जानकारी के अनुसार श्री बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के पूर्व अध्यक्ष, भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष तथा वर्तमान में प्रदेश कार्यसमिति के विशेष आमंत्रित सदस्य मोहन प्रसाद थपलियाल एवं चमोली भाजपा के ओबीसी मोर्चे के जिलाध्यक्ष कुलदीप चौहान की बद्रीनाथ हाइवे पर सड़क हादसे में मौत हो गई है। बताया गया है कि वे दोनों शनिवार शाम को उस समय से लापता थे जब वह कर्णप्रयाग से संगठन की बैठक से वापस लौट रहे थे। जिस पर उनकी खोजबीन कर रही पुलिस टीम को रविवार को बदरीनाथ हाईवे पर चाड़ा नामक स्थान पर एक कार के दुर्घटनाग्रस्त होकर अलकनंदा में गिरने की सूचना मिली। सूचना मिलते ही दुर्घटनास्थल पर पहुंची पुलिस विभाग की टीम ने एसडीआरएफ की मदद से तुरंत रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया और कुलदीप के शव को नदी से बाहर निकाला जबकि मोहन थपलियाल का शव अभी भी नदी के पास स्थित चट्टान में पड़ा हुआ है। अंधेरा होने की वजह से रेस्क्यू ऑपरेशन को रोक दिया गया है। उधर हादसे की खबर मिलने के बाद भाजपा नेता लगातार दुर्घटनास्थल पर पहुंच रहे। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत सहित कई नेताओं ने हादसे पर दुःख जताया है।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड के तहसीलदार की गाड़ी जा समाई नहर में, तहसीलदार समेत तीन की मौके पर ही मौत

लेख शेयर करे

Comments

More in UTTARAKHAND ROAD ACCIDENT

Trending

Advertisement

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

VIDEO

Advertisement
To Top