Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Almora Binsar forest fire incident.
फोटो सोशल मीडिया

अल्मोड़ा

उत्तराखण्ड

खबर का असर: अल्मोड़ा बिनसर वनाग्नि कांड में मृतकों के परिजनों से मिलने पहुँची मंत्री रेखा आर्य…….

Almora Binsar forest fire incident.: अल्मोड़ा बिनसर वनाग्नि कांड में मृतकों के परिजनों से मिलने पहुँची कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य, वन कर्मियों के आश्रितों को नौकरी दिलाने का दिया आश्वासन…….

Almora Binsar forest fire incident. गौरतलब हो कि बीते कुछ दिनों पहले अल्मोड़ा जिले के बिनसर अभयारण्य के जंगलो मे लगी भीषण आग की चपेट में आकर चार वन विभाग के कर्मियों की दर्दनाक मौत हुई थी जिससे उनके परिवार मे दुःखो का पहाड़ टूट पड़ा लेकिन बावजूद इसके मृतकों के परिजनों से मिलने उनका दर्द समझने कोई भी मन्त्री नही पहुँचा जिसके चलते स्थानीय लोगों का तमाम मंत्रियों सहित अल्मोड़ा जिले की विधानसभा से विधायक व कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य पर जमकर तंज कसा गया। इसके बाद यह मुद्दा सोशल मीडिया समेत अन्य मीडिया चैनल मे उठने लगा जिसे देखकर लोग मन्त्रियों के खिलाफ तरह- तरह की बाते बनाने लगे लेकिन इसी बीच अब बड़ी देरी से कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य मृतकों के परिजनों को सांत्वना देकर उनका दर्द बाँटने पहुँची है।
यह भी पढ़ें- अल्मोड़ा वनाग्नि: AC में आराम फरमा रहे मंत्री, मृतकों के परिजनों को सांत्वना देने वाला भी कोई नहीं

Binsar Forest Fire News: बता दें बीते रोज उत्तराखंड की कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य अल्मोड़ा जिले के बिनसर अभयारण्य में हुए भीषण अग्निकांड मे जान गंवाने वाले वन कर्मियों सहित घायलों के परिजनों से मिलने पहुंची। इस दौरान उन्होंने कहा कि मृतक वन बीट अधिकारी त्रिलोक सिंह मेहता के परिजन सरकारी नौकरी के अधिकारी है जबकि मृतक पीआरडी जवान पूरन सिंह के एक परिजन को नौकरी देने का आश्वासन दिया गया है। वहीं घायल पीआरडी जवान को स्वस्थ होने तक पूरा वेतन देने की बात कही गई है। उनका कहना है कि अन्य घायलों का सरकार समुचित उपचार करवा रही है और उनके भविष्य को सुरक्षित करने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। इसके अलावा बिनसर की घटना में नाबालिग मृतक के परिजनों को मुआवजा दिया गया है तथा इसके साथ ही मृतक फायर वाचर के पिता को वन विभाग में रोजगार देने की बात कही गई है ताकि प्रभावित परिवार को भरण पोषण में किसी भी तरह की कोई दिक्कत ना आए इसके लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे।

यह भी पढ़ें- अल्मोड़ा वनाग्नि: 17 वर्षीय करन छोड़ गया है माता पिता को रोते बिलखते और अपने पीछे कई सवाल भी

उत्तराखंड की सभी ताजा खबरों के लिए देवभूमि दर्शन के WHATSAPP GROUP से जुडिए।

👉👉TWITTER पर जुडिए।

लेख शेयर करे

More in अल्मोड़ा

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement Enter ad code here

PAHADI FOOD COLUMN


UTTARAKHAND GOVT JOBS

Advertisement Enter ad code here

UTTARAKHAND MUSIC INDUSTRY

Advertisement Enter ad code here

Lates News


देवभूमि दर्शन वर्ष 2017 से उत्तराखंड का विश्वसनीय न्यूज़ पोर्टल है जो प्रदेश की समस्त खबरों के साथ ही लोक-संस्कृति और लोक कला से जुड़े लेख भी समय समय पर प्रकाशित करता है।

  • Founder: Dev Negi
  • Address: Ranikhet ,Dist - Almora Uttarakhand
  • Contact: +917455099150
  • Email :[email protected]

To Top