Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Uttarakhand news: Sorrowful incident in Pithoragarh district, son died corona death, father dies due to shock

Coronavirus In Uttarakhand

उत्तराखण्ड

पिथौरागढ़

उत्तराखंड: पहाड़ में दुःखद घटना बेटे की कोरोना से मौत, पिता की सदमे से हो गई मौत

Uttarakhand: जवान बेटे ने कोरोना से तोड़ा दम (Corona Death), सदमे में पिता की भी हुई मौत, परिवार में कोहराम, क्षेत्र में पसरा मातम..

राज्य (Uttarakhand) के पिथौरागढ़ जिले से हृदयविदारक खबर सामने आ रही है जहां बेटे की कोरोना से मौत (Corona Death) की असहनीय खबर सुनकर पिता ने भी अपने प्राण त्याग दिए। पिता-पुत्र की एक साथ मौत की खबर से जहां परिवार में कोहराम मचा हुआ है वहीं एक ही घर के दो सदस्यों की असमय मौत से पूरे क्षेत्र में भी मातम पसरा हुआ है। लोग पीड़ित परिवार के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त कर रहे हैं। गांव के लोग मृतकों के घर जाकर परिजनों को सांत्वना देने की कोशिश कर रहे हैं। परिजनों के मुताबिक बेटे की मौत का दुःख उसके पिता सहन नहीं कर पाए और दिल का दौरा पड़ने से उनकी भी मौत हो गई। बता दें कि मृतक के पिता एक पूर्व सैनिक थे और उन्होंने अपनी वीरता और बहादुरी के बलबूते पाकिस्तान से हुई लड़ाई में भी दुश्मनों के छक्के छुड़ा दिए थे परन्तु जवान बेटे की मौत की खबर ने उन्हें भी तोड़ दिया।
यह भी पढ़ें- राहुल वोहरा की पत्नी ने जारी किया वीडियो ऑक्सीजन की जगह खाली मास्क लगाकर चले गए डॉक्टर्स

प्राप्त जानकारी के अनुसार मूल रूप से राज्य के पिथौरागढ़ जिले के खोलिया गांव निवासी इंद्र बहादुर उर्फ दीपक गुजरात में जेके टायर लिमिटेड में कार्य करते थे। बताया गया है कि बीते दिनों वह अपने घर आए हुए थे, जहां जांच के दौरान वह कोरोना संक्रमित पाए गए थे। जिसके बाद पिथौरागढ़ जिला अस्पताल में उनका उपचार चल रहा था। बीते शनिवार देर रात उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ गई और उन्होंने उपचार के दौरान दम तोड दिया। रविवार को परिजनों द्वारा इंद्र बहादुर उर्फ दीपक की मौत की दुखद खबर उनके पिता लक्ष्मण सिंह पाल को दी गई। जवान बेटे की असमय मौत की दुखद खबर सुनकर लक्ष्मण सिंह गुमसुम हो गए। वह इस दुखद हादसे को सहन नहीं कर पाए और उन्हें दिल का दौरा पड़ गया। इससे पहले कि परिजन कुछ समझ पाते लक्ष्मण ने भी अपना दम तोड दिया। परिवार में पिता-पुत्र की एक साथ मौत होने से परिजनों पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है और परिजनों की आंखों से अश्रुओं की धारा थमने का नाम नहीं ले रही हैं।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: शादी के दो हफ्ते बाद ही शिक्षक की मौत, कोरोना से थे संक्रमित

लेख शेयर करे

More in Coronavirus In Uttarakhand

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top