Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Uttarakhand marriage: The groom walked on foot amidst heavy snowfall in his marriage

उत्तरकाशी

उत्तराखण्ड

उत्तराखंड: ढोल नगाड़ों के साथ दुल्हनिया लेने भारी बर्फबारी के बीच पैदल ही निकला दूल्हा

Uttarakhand Marriage: भारी बर्फबारी (Snowfall) के बीच दूल्हन को लेने पैदल ही निकला दूल्हा, बर्फ में ढोल नगाड़े की थाप पर जमकर नाचे बाराती..

राज्य में इन दिनों कड़ाके की ठंड पड़ रही है। पर्वतीय क्षेत्रों में बीते तीन दिनों से जारी बर्फबारी से जहां ठंड में इजाफा हुआ है वहीं पहाड़ के लोगों की दुश्वारियां भी बढ़ी है। भले ही बर्फबारी ने लोगों की मुश्किलें बढ़ाई हो परन्तु इसकी सुंदर तस्वीरें यादों को सहेजने के लिए काफी है। वैसे तो उत्तराखण्ड के पहाड़ी क्षेत्रों में जाड़े के मौसम में बर्फबारी होना आम बात है परन्तु ऐसे में अगर किसी दूल्हे को बर्फबारी में अपनी बारात (Uttarakhand Marriage) लेकर जाना पड़े तो बर्फ में खिंची तस्वीरें उसकी शादी को भी यादगार बना देती है। ऐसा ही एक खबर आज राज्य के उत्तरकाशी जिले से सामने आ रही है जहां भारी बर्फबारी (Snowfall) के कारण एक दूल्हे को अपनी बारात लेकर पैदल ही दूल्हन की घर की ओर निकलना पड़ा। हालांकि मार्ग में डेढ़ फीट से अधिक बर्फ गिरी होने के कारण दूल्हे और बरातियों को मुश्किलों का भी सामना करना पड़ा परंतु बावजूद इसके बारातियों के उत्साह में कोई कमी नहीं आई। वे बर्फ में ही ढोल-नगाड़ों की धुन पर जमकर नाचे। दूल्हे को बारात के साथ बर्फ में पैदल चलते एवं नाचते-झूमते हुए जिसने भी देखा वो देखता रह गया। यहां तक कि दूल्हे और बारात की बर्फ के बीच यह तस्वीरें जमकर वायरल भी हो रही है।
यह भी पढ़ें- दूसरे धर्म और जाति में शादी करने पर 50 हजार रुपये देगी उत्तराखंड सरकार, आखिर क्या है सच्चाई?

डेढ़ फीट मोटी बर्फ के साथ ही कड़ाके की ठंड में भी कम नहीं हुआ बारातियों का उत्साह, जमकर उठाया शादी का लुत्फ:-

प्राप्त जानकारी के अनुसार मूल रूप से राज्य के उत्तरकाशी जिले के उपला टकनौर क्षेत्र के सुक्की गांव निवासी जयदेव राणा की बरात गुरुवार को जिले के ही मानपुर गांव में जानी थी। शादी के लिए सभी तैयारियां हो चुकी थी। रात को मेहंदी के बाद जयदेव और उसके परिजन सोने चले गए। उस समय तक आसमान बादलों से घिरा था लेकिन सुबह जैसे ही उनकी नींद खुली तो चारों ओर बर्फ ही बर्फ नजर आई। दरअसल बुधवार रात हुई भारी बर्फबारी से न केवल सुक्की, मानपुर और उसके आसपास के गांव बल्कि गंगोत्री हाईवे बर्फ से पट गया था। ऐसे में उन्होंने कुछ देर तो बर्फ के पिघलने का इंतजार किया परंतु पैदल ही दूल्हन के घर की रवाना होने का फैसला किया। इस दौरान घरातियों और बरातियों ने जमकर बर्फबारी का लुत्फ उठाया और वे ढोल-नगाड़े की थाप पर बर्फ में जमकर नाचे। साथ ही फोटो शूट कर जयदेव की बारात को यादगार भी बनाया। हालांकि एक तो डेढ़ फीट मोटी बर्फ की परत और ऊपर से कड़ाके की ठंड के कारण बारात को रवाना होने में काफी देरी हुई। बावजूद इसके बारातियों के उत्साह में कोई कमी नजर नहीं आई।

यह भी पढ़ें- उत्तराखण्ड : बर्फबारी के चलते बंद था रास्ता, दूल्हा चार किमी पैदल चल पहुंचा दुल्हन के घर

लेख शेयर करे

Comments

More in उत्तरकाशी

Trending

Advertisement

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

VIDEO

Advertisement
To Top