Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Uttarakhand news: marriage are not happing for daughters in this village of Nainital, will be stunned to know the reason

उत्तराखण्ड

नैनीताल

उत्तराखंड के इस गांव में बेटियों के लिए नहीं आ रहे हैं रिश्ते, वजह जानकर रहेंगे दंग

Nainital marriage news: उत्तराखंड के इस गांव में सड़क ना होने की वजह से नहीं हो पाते यहां की बेटियों के रिश्ते

उत्तराखंड में सड़क व्यवस्थाओं की बदहाली की खबरें तो आप आए दिन सुनते ही होंगे लेकिन इससे जुड़ी एक विचित्र खबर नैनीताल जिले से सामने आ रही है।नैनीताल से 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित गांव गैरीखेत मे जहां सड़क न होने की वजह से एक ओर गांव के लोगों को कई परेशानियो से जूझना पडता हैं,वही दूसरी ओर हालत यह है कि गांव की बेटियों के रिश्ते भी नहीं हो पा रहे हैं।इस बात से गांव की महिलाओं में बेहद नाराज़गी तथा रोष है।गांव की महिलाओं का कहना है कि गांव में सड़क न होने की वजह से लगातार गांव से पलायन हो रहा है। उनका कहना है कि नेताओं द्वारा चुनाव के  समय गांव की भोली-भाली जनता से बड़े-बड़े वादे किए जाते हैं फिर चुनाव जीतने के बाद वादों को पूरा करना तो दूर की बात गांव की ओर झांकने तक नहीं आते।( Nainital marriage news)

यह भी पढ़िए:उत्तराखंड: पहाड़ में प्रसव पीड़ा से कराहती घनी रात में 6 घंटे पैदल चली गर्भवती
गांव में सड़क न होने की वजह से ग्रामीणों के लिए रास्ते में जंगली जानवरों का खतरा रहता है।गंभीर रूप से बीमार व्यक्ति समय से अस्पताल नहीं पहुंच पाने के कारण रास्ते में ही दम तोड़ देते हैं। सब्जी, दूध तथा अन्य जरूरत का सामान भी सड़क ना होने की वजह से समय पर गांव तक नहीं पहुंच पाता।बाजार से गांव तक सिलेंडर लाने में 500 रुपये अतिरिक्त खर्च करने पड़ते हैं। वही इस पर 2012 से अभी तक सड़क ना बना पाने को लेकर नैनीताल की विधायक सरिता आर्या का कहना है कि हम सड़क नहीं बनवा सके लेकिन अब विधायक निधि से गैरीखेत सहित ज़िले के सभी गांवों तक सड़को का निर्माण जल्द ही करवाया जाएगा।

उत्तराखंड की सभी ताजा खबरों के लिए देवभूमि दर्शन के WHATSAPP GROUP से जुडिए।

उत्तराखंड की सभी ताजा खबरों के लिए देवभूमि दर्शन के TELEGRAM GROUP से जुडिए।

👉👉TWITTER पर जुडिए।

लेख शेयर करे

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top