Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Uttarakhand News: Utkarsh tomar from Haridwar has secured 14 ranks in the Indian Forest Service, also clear UPSC examination.

UPSC CIVIL SERVICES EXAM RESULT

उत्तराखण्ड

हरिद्वार

उतराखण्ड: इंडियन फारेस्ट सर्विस में 14 रैंक हासिल कर चुके उत्कर्ष UPSC परीक्षा में भी हुए सफल

उत्कर्ष ने बढ़ाया देवभूमि उत्तराखंड का मान, यूपीएससी के परीक्षा परिणामों में 172वीं रैंक हासिल कर अब बनेंगे आईपीएस अधिकारी…

कहते हैं कि पूत के पांव पालने में ही दिख जाते हैं। इस कहावत को एक बार फ़िर चरितार्थ कर दिखाया है राज्य के एक और होनहार युवा ने, जी हां.. हम बात कर रहे हैं मूल रूप से राज्य के हरिद्वार जिले के रहने वाले उत्कर्ष तोमर की, जिसने संघ लोक सेवा आयोग परीक्षा-2020 के परीक्षा परिणामों में 172 रैंक प्राप्त कर न केवल अपने माता-पिता और क्षेत्र का नाम रोशन किया है बल्कि समूचे प्रदेश को गौरवान्वित होने का सुनहरा अवसर भी प्रदान किया है। अपनी इस अभूतपूर्व सफलता से उन्होंने आईपीएस अधिकारी बनने के अपने बचपन के सपने को भी साकार किया है। सबसे खास बात तो यह है कि उत्कर्ष ने आज तक जो भी परीक्षा दी उसमें उन्होंने टॉप किया है। इससे पूर्व भी वह 2018 में आई एफ एस, इंडियन फॉरेस्ट सर्विस में 14 रैंक प्राप्त कर चुके हैं जबकि इसी दौरान उन्होंने इंडियन सिविल सर्विस में उन्होंने 306 रैंक प्राप्त की थी।
यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: आईटीबीपी में इंस्पेक्टर के पद तैनात कांडा के सिद्धार्थ ने पास की यूपीएससी परीक्षा

प्राप्त जानकारी के अनुसार मूल रूप से राज्य के हरिद्वार जिले के कनखल स्थित श्याम विहार कॉलोनी निवासी उत्कर्ष तोमर ने यूपीएससी की परीक्षा में 172वीं रैंक हासिल की है। अपनी इंटरमीडिएट तक की शिक्षा रानीपुर स्थित दिल्ली पब्लिक स्कूल से प्राप्त करने वाले उत्कर्ष की मां डा. शशिप्रभा जहां महिला महाविद्यालय सतीकुंड की प्राचार्य है वहीं उनके पिता डा. तेजवीर सिंह तोमर एसएमजेएन कालेज में एसोसिएट प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हैं। बता दें कि इंटरमीडिएट की परीक्षा उत्तीर्ण करने के पश्चात उत्कर्ष ने कुरुक्षेत्र से मैकेनिकल इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की। तत्पश्चात वह सिविल सर्विसेस की तैयारी में जुट गए और अपने दूसरे ही प्रयास में वे आइएफएस के लिए चयनित भी हो ग‌ए और दून में प्रशिक्षण भी लिया। परंतु उनका लक्ष्य भारतीय प्रशासनिक या पुलिस सेवा में जाने का था, इसके लिए उन्होंने दोबारा तैयारी कर सिविल सेवा की परीक्षा दी। इसी का नतीजा है कि इस बार आईपीएस अधिकारी के लिए उनका चयन हुआ है।


यूट्यूब पर जुड़िए

लेख शेयर करे

Comments

More in UPSC CIVIL SERVICES EXAM RESULT

Trending

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

Advertisement
To Top