Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Delhi dehradun uttrakhand toll tax increase news
सांकेतिक फोटो

उत्तराखण्ड

देहरादून

उत्तराखण्ड: अब दिल्ली देहरादून का सफर भी हुआ महंगा, बढ़ ग‌ए टोल टैक्स के दाम

toll tax increase news: अब टोल प्लाजा से गुजरने पर वाहन चालकों को चुकाने होंगे अधिक पैसे, टोल टैक्स में 5 से 10 प्रतिशत तक की हुई बढ़ोतरी………………..

toll tax increase news: भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग का उपयोग करने वाले वाहन चालकों के लिए एक बुरी खबर सामने आई है। अब टोल प्लाजा से गुजरने वाले वाहन चालकों को टोल टैक्स का अधिक भुगतान करना होगा इसी के साथ राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने देश भर में टोल की दरों में औसतन 5 से 10% की बढ़ोतरी की है। जिससे दिल्ली देहरादून का सफर महंगा हो गया है।
यह भी पढ़ें- दूध हुआ महंगा, अमूल और मदर डेयरी ने बढ़ायें दाम जानिए कितनी हुई वृद्धि….

Uttarakhand Toll tax news
बता दें भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के परियोजना निदेशक पीएस गुन्साई द्वारा बताया गया कि टोल टैक्स मे 5 से 10 प्रतिशत तक की वृद्धि हुई है और सभी टोल प्लाजा पर बढ़ी हुई दरें बीते रविवार यानी 2 जून की रात से लागू हो गई है। दरअसल राजमार्ग उपयोगकर्ता शुल्क का वार्षिक संशोधन पहले 1 अप्रैल से लागू होना था फिर लोकसभा चुनाव के चलते इस वृद्धि को किसी तरह से टाल दिया गया था लेकिन इसी के साथ अब लोकसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने से पहले ही रविवार 2 जून की मध्य रात्रि के बाद टोल टैक्स की दरों मे वृद्धि कर इसे लागू कर दिया गया है।ऐसे में देहरादून से हरिद्वार और हरिद्वार से दिल्ली की ओर जाने वाले वाहनों को करीब 10 – 10 रुपये अधिक भुगतान करने होंगे। जबकि देहरादून से वाया भगवानपुर रुड़की होकर दिल्ली पहुंचने वाले यात्रियों को भगवानपुर स्थित टोल पर करीब 5 रुपये अधिक चुकाने होंगे।
यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: जेब ढीली करने के लिए हो जाए तैयार, बढ़ेगा रोडवेज बसों का किराया सफर होगा महंगा

जानें क्यों लिया जाता है टोल टैक्स:-

Delhi dehradun haridwar toll
टोल टैक्स या टोल वह शुल्क होता है जो वाहन चालकों को कुछ अंतरराज्यीय एक्सप्रेसवे, सुरंगों, पूलों और अन्य राष्ट्रीय समेत राज्य मार्गों को पार करते समय चुकाना पड़ता है। इन सड़कों को टोल रोड कहा जाता है और यह भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण एनएचआई के नियंत्रण में होती है। दरअसल टोल टैक्स से प्राप्त राशि का उपयोग सड़कों, पुलों, और हाईवे के निर्माण और रखरखाव के लिए किया जाता है। इससे यह सुनिश्चित होता है कि बुनियादी ढांचा अच्छा और सुरक्षित रहे। यह सरकार के लिए राजस्व का एक महत्वपूर्ण स्रोत है। इसे अन्य विकास कार्यों में भी उपयोग किया जा सकता है। टोल टैक्स से एकत्रित धनराशि का उपयोग परिवहन नेटवर्क को सुधारने और यातायात प्रबंधन को कुशल बनाने में किया जाता है।

यह भी पढ़ें- नैनीताल में पर्यटकों को टिफिन टॉप और चाइना पीक घूमने के लिए भी देना होगा प्रवेश शुल्क….

उत्तराखंड की सभी ताजा खबरों के लिए देवभूमि दर्शन के WHATSAPP GROUP से जुडिए।

👉👉TWITTER पर जुडिए।

लेख शेयर करे

More in उत्तराखण्ड

Advertisement

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement Enter ad code here

PAHADI FOOD COLUMN


UTTARAKHAND GOVT JOBS

Advertisement Enter ad code here

UTTARAKHAND MUSIC INDUSTRY

Advertisement Enter ad code here

Lates News


देवभूमि दर्शन वर्ष 2017 से उत्तराखंड का विश्वसनीय न्यूज़ पोर्टल है जो प्रदेश की समस्त खबरों के साथ ही लोक-संस्कृति और लोक कला से जुड़े लेख भी समय समय पर प्रकाशित करता है।

  • Founder: Dev Negi
  • Address: Ranikhet ,Dist - Almora Uttarakhand
  • Contact: +917455099150
  • Email :[email protected]

To Top