Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Uttarakhand: ITBP soldier jameer ahmad martyred in Doklam

उत्तराखण्ड

ऊधमसिंह नगर

उत्तराखंड: चीन सीमा से सटे डोकलाम में तैनात आईटीबीपी का जवान शहीद, परिजनों में कोहराम

चीन सीमा से सटे डोकलाम में तैनात आईटीबीपी (ITBP) का जवान शहीद, जवान के शहादत की खबर से ही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल..

चीनी सीमा से सटे डोकलाम से उत्तराखंड के लिए एक दुखद खबर आ रही है जहां तैनात आईटीबीपी (ITBP) के जवान जमीर अहमद का अचानक तबीयत बिगड़ जाने से बीते शनिवार को ड्यूटी के दौरान निधन हो गया। जवान के शहादत का समाचार मिलते ही जहां परिवार में कोहराम मच गया वहीं पूरे क्षेत्र में शोक की लहर छा गई। शहीद जवान के परिजनों की आंखों से आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। बताया गया है कि शहीद जवान राज्य के उधमसिंह नगर जिले के रहने वाले थे। उनका पार्थिव शरीर सोमवार को घर पहुंचने की संभावना है। सोमवार को पहले उनका पार्थिव शरीर हवाई जहाज से दिल्ली लाया जाएगा जिसके बाद दिल्ली से सड़क मार्ग से उत्तराखंड पहुंचेगा। जवान के आकस्मिक निधन का समाचार मिलते ही आस पास के ग्रामीण शहीद के परिजनों को सांत्वना देने के लिए पहुंचने लगे हैं। शहीद जवान अपने पीछे पत्नी नूरजहां, बेटी शहनाज और तरन्नुम के अलावा पुत्र सनाउल मुस्तफा को रोते-बिलखते छोड़कर चले गए हैं।
यह भी पढ़ें- जम्मू कश्मीर में तैनात उत्तराखण्ड के जवान का डयूटी के दौरान निधन, परिजनों में मचा कोहराम

दिसंबर 2019 से डोमलाम में तैनात थे शहीद जवान, इससे पहले तीन वर्ष एन‌एसजी में भी दे चुके थे सेवा:-

प्राप्त जानकारी के अनुसार राज्य के उधमसिंह नगर जिले के किच्छा के वार्ड 15 निवासी जमीर अहमद आईटीबीपी में तैनात थे। वर्तमान में उनकी पोस्टिंग चीनी सीमा से सटे डोकलाम में थी। बताया गया है कि वह 12 दिसंबर 2019 को छुट्टियां बिताकर घर से ड्यूटी में ग‌ए थे और तब से वहीं तैनात थे। शहीद जवान के पुत्र सनाउल मुस्तफा का कहना है कि इस दौरान उनकी हर तीसरे दिन अपने पिता से बात होते रहती थी। बीते शनिवार को आईटीबीपी के अधिकारियों की ओर से उन्हें सूचित किया गया कि उनके पिता की अचानक तबीयत खराब हो गई थी, जिस पर उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां उपचार के दौरान वह जिंदगी और मौत के बीच की यह जंग हार गए और उन्होंने अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। बता दें कि मूल रूप से पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश के बरेली जिले के बहेड़ी तहसील के ग्राम गननगला के रहने वाले शहीद जमीर अहमद वर्ष 2009 से 2012 तक राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) में भी अपनी सेवाएं दे चुके थे।

यह भी पढ़ें- उत्तराखण्ड का जवान जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा में शहीद, खबर से पहाड़ में मचा कोहराम

लेख शेयर करे

Comments

More in उत्तराखण्ड

Trending

Advertisement

VIDEO

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

Advertisement
To Top