Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Uttarakhand Bolero Accident pithoragarh news

UTTARAKHAND ROAD ACCIDENT

उत्तराखण्ड

पिथौरागढ़

उत्तराखंड: पहाड़ में रात के समय दर्दनाक सड़क हादसा, चालक की मौत से परिजनों में मचा कोहराम

Uttarakhand Bolero Accident: पहाड़ में दर्दनाक सड़क हादसा, बदहाल सड़क पर अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिरा बोलेरो वाहन, चालक की मौके पर ही मौत, दो अन्य घायल..

राज्य में दर्दनाक सड़क दुर्घटनाएं लगातार बढ़ती ही जा रही है। खासतौर पर पर्वतीय क्षेत्रों में सड़क दुर्घटनाओं पर लगाम लगाना शासन-प्रशासन के साथ ही स्थानीय लोगों के लिए भी नाकाफी साबित हो रहा है। पर्वतीय क्षेत्रों में अधिकांश दुर्घटनाएं रात के अंधेरे के कारण होती है। राज्य के किसी ना किसी हिस्से से लगभग रोज ही सुनाई देने वाली दर्दनाक सड़क दुर्घटना की खबर आज राज्य के पिथौरागढ़ जिले से आ रही है जहां देर रात एक बोलेरो वाहन के अनियंत्रित होकर गहरी खाई में समा जाने (Uttarakhand Bolero Accident) से वाहन चालक की मौके पर ही मौत हो गई जबकि वाहन में सवार दो अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। हादसे की सूचना पर घटनास्थल पर पहुंची पुलिस विभाग की टीम ने तुरंत रेस्क्यू ऑपरेशन कर तीनों को खाई से बाहर निकाला और मृतक के शव को कब्जे में लेकर घायलों को तुरंत नजदीकी अस्पताल भिजवाया, जहां उनकी हालत अब खतरे से बाहर बताई गई है। हादसे की खबर से मृतक के परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।
यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: गहरी खाई में जा समाई बोलेरो एक की मौत अन्य घायल, SDRF टीम ने किया रेस्क्यू

परिवार का इकलौता कमाने वाला था मृतक सुनील, हादसे के बाद से थम नहीं रहे मृतक की परिजनों की आंखों से आंसू:-

प्राप्त जानकारी के अनुसार राज्य के पिथौरागढ़ जिले के देवलथल से चौपाता जा रही एक बोलेरो वाहन संख्या यूके-04-टीबी-0305 जैसे ही चौपाता के पास पहुंची तो ऊबड़-खाबड़ हो चुकी बदहाल सड़क पर अनियंत्रित होकर लगभग 50 मीटर गहरी खाई गिर गई। जिससे वाहन चालक सुनील सिंह सामंत पुत्र हयात सिंह निवासी चौपाता की मौके पर ही मौत हो गई जबकि वाहन में सवार पंकज सिंह पुत्र प्रेम सिंह और चालक दीपक लाल घायल हो गए। हादसे की सूचना पर घटनास्थल पर पहुंची पुलिस विभाग की टीम ने स्थानीय ग्रामीणों की सहायता से तीनों को खाई से बाहर निकाला। हादसे की खबर से मृतकों के परिजनों में कोहराम मचा हुआ है, उसकी परिजनों की आंखों से आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। बताया गया है कि मृतक सुनील अविवाहित था और गाड़ी चलाकर परिवार का भरण-पोषण करता था। पूरे परिवार की जिम्मेदारी उसी पर थी।‌ उसका छोटा भाई नीरज भी बेरोजगार हैं।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड : नैनीताल जिले में पहाड़ी दरकने से हुआ भूस्खलन दो ग्रामीणों की मलबे में दबकर मौत

लेख शेयर करे

Comments

More in UTTARAKHAND ROAD ACCIDENT

Trending

Advertisement

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

VIDEO

Advertisement
To Top