Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Uttarakhand: women died due to Corona virus Ambulance and oxygen cylinders booked in champawat from Delhi for treatment. Health services.

Coronavirus In Uttarakhand

उत्तराखण्ड

चम्पावत

ढाई‌ लाख में एंबुलेंस व ऑक्सीजन सिलेंडर बुक कर उपचार के लिए दिल्ली से उत्तराखंड पहुंची महिला, मौत

बढ़ते कोरोना (Corona virus) संक्रमण के कारण खुली देश‌ की स्वास्थ्य सेवाओं (Health services) की पोल, दिल्ली से उपचार के लिए चम्पावत पहुंची महिला, अस्पताल में भर्ती होने के दो घंटे बाद मौत..

समूचे देश में वैश्विक महामारी कोरोना की दूसरी लहर ने हाहाकार मचा रखा है। कहीं मरीजों को बेड नहीं मिल रहे तो कहीं आक्सीजन और वेंटीलेटरों की कमी के कारण मरीजों की मौत हो रही है। इन दिनों देश कितने बुरे दौर से गुजर रहा है इस बात का अंदाजा इस एक खबर से आसानी से लगाया जा सकता है। मामला राज्य के चम्पावत जिले का है जहां दिल्ली से एक महिला को कोरोना का उपचार करवाने के लिए चम्पावत आना पड़ा। बता दें कि चम्पावत राज्य के उन जनपदों में शामिल हैं जहां से मामूली-सी बीमारी पर भी मरीजों को हायर सेंटर रेफर किया जाता है। ऐसे में जब देश की राजधानी दिल्ली से कोई महिला उपचार के लिए चम्पावत पहुंचे तो हालातों का अंदाजा आसानी से लगाया जा सकता है। बताया गया है कि महिला के परिजनों ने पहले दिल्ली में ही बेड की तलाश की परंतु उन्हें कहीं भी कोरोना बेड नहीं मिला, आनलाइन चेक करने पर उन्हें पता चला कि चम्पावत में कोरोना बेड खाली है, जिस पर परिजन महिला को लेकर चम्पावत के लिए निकल ग‌ए। इसके लिए उन्होंने ढाई लाख रुपए में एम्बुलेंस व आक्सीजन सिलेंडर बुक कराया, परंतु इसके बाद भी वह महिला को बचा नहीं पाए, अस्पताल में भर्ती होने के दो घंटे बाद ही महिला ने दम तोड दिया।
यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: अब पहाड़ चढ़ने लगा कोरोना पिथौरागढ़ जिले में एक और कोरोना संक्रमित की मौत

प्राप्त जानकारी के अनुसार दिल्ली के मुखर्जी नगर की रहने वाले राकेश शर्मा की पत्नी रीता शर्मा कोरोना संक्रमित थी। बताया गया है कि रीता की तबीयत दिन-प्रतिदिन बिगड़ती जा रही थी। जिस पर परिजन उसे लेकर दिल्ली के क‌ई अस्पतालों में पहुंचे परंतु कहीं भी कोरोना बेड खाली ना होने के कारण उन्हें सभी जगह से मायूस ही लौटना पड़ा। ऐसे में परिजनों ने आनलाइन व्यवस्था का सहारा लिया और गूगल की मदद से ऑनलाइन कोविड अस्पतालों की स्थिति चेक की तो चम्पावत जीवन अनमोल अस्पताल में उन्हें बेड खाली होने की जानकारी मिली। जिस पर उन्होंने बिना वक्त गंवाए रीना को चम्पावत ले जाने की तैयारियां शुरू कर दी। विपरित परिस्थितियों को देखते हुए उन्होंने 80 हजार का एक ऑक्सीजन सिलेंडर खरीदा और डेढ़ लाख रुपए में एक एम्बुलेंस बुक कराई। बुधवार रात को एक बजे के आसपास परिजन रीता को लेकर चम्पावत पहुंचे और उसे जीवन अनमोल अस्पताल में भर्ती कराया। लेकिन दो घंटे बाद ही रात करीब तीन बजे के आसपास रीता ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। रीता की मौत की खबर से परिवार में कोहराम मच गया।

यह भी पढ़ें- Aries नैनीताल के पूर्व निदेशक वैज्ञानिक अनिल पांडेय का निधन, कोरोना रिपोर्ट आई थी पोजिटिव

लेख शेयर करे

Comments

More in Coronavirus In Uttarakhand

Trending

Advertisement

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

VIDEO

Advertisement
To Top