Connect with us
Uttarakhand Government Happy Independence Day
Uttarakhand news: bhuvan Chandra Joshi murder case latest news almora.

अल्मोड़ा

उत्तराखण्ड

अल्मोड़ा: वो कहता रहा मेरी मां नहीं है, आपकी बेटी ने बुलाया था अंकल, फिर भी नहीं पसीजा भीड़ का दिल

Almora Murder Case: भुवन‌ बोलता रहा मेरी भी माँ नहीं है,अंकल आप एक बार मेरा फोन तो देख लो, लेकिन यहाँ तो बेल्ट से पिटना शुरू कर दिया

बीते बुधवार शाम को राज्य के अल्मोड़ा जिले में हुई दर्दनाक घटना में भुवन चंद्र जोशी और उसके साथी कैलाश सिंह के साथ ग्रामीणों द्वारा की गई मारपीट के क‌ई विडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहे हैं। वीडियो में न केवल भुवन ग्रामीणों से माफी मांगते हुए खुद को बख्श देने की गुहार लगा रहा है बल्कि अपनी गलती ना होने का सबूत भी पेश कर रहा है। वीडियो में साफ तौर पर सुना जा सकता है कि किस तरह भुवन लड़की के पिता को सच्चाई से अवगत कराते हुए कहा रहा है कि अंकल आपकी बेटी ने किया था, जिसकी रिकार्डिंग भी मेरे पास है, मेरी मां भी नहीं है परंतु लड़की के पिता के साथ ही वहां मौजूद कोई भी शख्स उसकी बातों पर यकीन नहीं कर रहा है।‌ इसके विपरित विडियो में कानून को अपने हाथों में लेकर ग्रामीणों द्वारा भुवन और उसके दोस्त को बेरहमी से पीटा जा रहा है। ग्रामीणों युवकों को मारने के लिए लात-घूंसों के साथ ही बेल्ट का भी इस्तेमाल कर रहे हैं। यह शर्मनाक घटना न केवल पहाड़ के वाशिंदों के माथे पर कलंक है बल्कि इस घटना ने लोगों के संवेदनहीनता को भी उजागर किया है।
यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: वो जिंदगी की भीख मांगता रहा, और लोगों ने लात घूंसो से पीटकर उतार दिया मौत के घाट

गौरतलब है कि राज्य के अल्मोड़ा जिले के धौलादेवी ब्लाॅक के सुदूर आरासलपड़ गांव में बीते बुधवार शाम को एक 16 वर्षीय किशोरी के साथ छेड़छाड़ होने का मामला सामने आया था। ग्रामीणों का कहना था कि दन्या क्षेत्र के रूवाल गांव निवासी भुवन चंद्र जोशी पुत्र उमेश चंद्र जोशी एवं डसीली गांव निवासी कैलाश सिंह पुत्र शेर सिंह एवं ललित सिंह पुत्र प्रताप सिंह ने किशोरी के साथ छेड़छाड़ की थी। जिस पर गुस्साए ग्रामीणों ने वहां पहुंचे तीन युवकों में से भुवन और कैलाश के साथ मारपीट शुरू कर दी थी। घटना से गुस्साए ग्रामीणों ने दोनों युवकों को बेहद बुरी तरह पीट दिया था। हालांकि इस दौरान ललित घटनास्थल से भागने में सफल रहा था।‌ ग्रामीणों ने युवकों को इतनी बेरहमी से पीटा था कि पुलिस हिरासत में भुवन की अचानक तबीयत खराब हो गई और उसकी मौत हो गई। भुवन की मौत के बाद सोशल मीडिया पर वायरल हुई वीडियो को देखकर हरकत में आई पुलिस ने गांव के हरीश पांडे पुत्र देवी दत्त पाण्डे, हरीश चंद्र पांडेय पुत्र लालमणि एवं नर सिंह पुत्र अमर सिंह, लड़की के पिता शिवदत्त पांडेय तथा गांव के पूर्व प्रधान को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस विभाग की टीम वायरल वीडियो के आधार पर घटना की छानबीन के साथ ही अन्य आरोपियों की पहचान करने में जुटी हुई है।

यह भी पढ़ें- पिता ने पार की हैवानियत की हदें, पहले पत्नी को पीटा फिर ढाई साल की बेटी की आंख में दाग दी जलती बीड़ी

लेख शेयर करे

Comments

More in अल्मोड़ा

Trending

Advertisement

RUDRAPRAYAG : DM VANDANA CHAUHAN

UTTARAKHAND CINEMA

Advertisement

CORONA VIRUS IN UTTARAKHAND

VIDEO

Advertisement
To Top